पखवाड़े भर में छत्तीसगढ़ में 3 नए कोयला खदान

नई दिल्ली | डेस्क: पिछले पखवाड़े भर में छत्तीसगढ़ में तीन निजी कंपनियों को कोयला खदान दिए गये हैं.

हालांकि अलग-अलग राज्य सरकारों को आवंटित कोयला खदान पहले से ही एमडीओ के आधार पर निजी कंपनियों के पास हैं.


अब इस महीने की 18 तारीख़ को तीन कोयला खदानों का आवंटन किया गया.

इनमें पहला कोयला खदान, सीजी नेचुरल रिसोर्सेस प्राइवेट लिमिटेड को झिगडोर में आवंटित किया गया.

इसी तरह खरगांव कोयला खदान भी सीजी नेचुरल रिसोर्सेस प्राइवेट लिमिटेड को सौंपा गया है.

18 नवंबर को भास्करपारा कोयला खदान प्रकाश इंडस्ट्रीज लिमिटेड को आवंटित किया गया है.

आवंटित और नीलाम कोयला खदान

सीएमएसपी अधिनियम 2015 के तहत छत्तीसगढ़ में कुल 21 कोयला खदानों का आवंटन या नीलामी की गई है.

इनमें चोटिया कोयला खदान भारत एल्युमिनियम कंपनी लिमिटेड को, गारे पेल्मा 4/4, गारे पेल्मा 4/5 हिंडाल्को इंडस्ट्रीज को, गारे पेल्मा सेक्टर 1 गुजरात राज्य विद्युत निगम लिमिटेड को, गारे पेल्मा सेक्टर 2 महाराष्ट्र राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी के पास हैं.

इसी तरह गारे पेल्मा सेक्टर 3 छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी लिमिटेड के पास, गारे पेल्मा क्षेत्र 1 4/8 अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड के पास है.

गिधमुड़ी व पतुरिया छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत उत्पादन कंपनी लिमिटेड के पास, परसा कोयला खदान राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के पास, परसा ईस्ट व केते बासन राजस्थान राज्य विद्युत उत्पादन निगम लिमिटेड के पास हैं.

तलाईपल्ली कोयला खदान एनटीपीसी लिमिटेड के पास, मदनपुर दक्षिण आंध्र प्रदेश एमडीसीएल के पास, दुर्गापुर-2/तराईमार और दुर्गापुर-2/सरिया केपीसीएल के पास हैं.

गारे पेल्मा 4/1 जिंगल पावर लिमिटेड के पास, गारे पेल्मा 4/7 सारदा एनर्जी एंड मिनरल्स लिमिटेड के पास, भास्करपारा कोयला खदान प्रकाश इंडस्ट्रीज लिमिटेड के पास और खरगांव व झिगडोर सीजी नेचुरल रिसोर्सेज़ प्राइवेट लिमिटेड के पास हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!