बंधुआ मज़दूरों के मामले में छत्तीसगढ़ नंबर-1

रायपुर | संवाददाता: पिछले चार सालों में पूरे देश में सर्वाधिक बंधुआ मज़दूरों के मामले छत्तीसगढ़ में सामने आये हैं.

देश भर में पिछले चार सालों में बंधुआ मज़दूर से जुड़े 3740 मामले सामने आये हैं.


इनमें से अकेले छत्तीसगढ़ के 1526 मामले हैं.

भारत सरकार के आंकड़ों के अनुसार 2018-2019 में असम में 12, बिहार में 238, पुड्डुचेरी में 9, उत्तर प्रदेश में 741 बंधुआ मज़दूर के मामले सामने आए.

नियमानुसार इन बंधुआ मज़दूरों को मुआवज़ा भी दिया गया.

इसी साल यानी 2018-19 में छत्तीसगढ़ में 1276 बंधुआ मज़दूरों के मामले सामने आये और उन्हें मुआवज़ा दिया गया.

2020-21 में असम में 1, बिहार में 220, मध्यप्रदेश में 34, राजस्थान में 49 और पश्चिम बंगाल में 16 बंधुआ मज़दूरों को नकद सहायता दी गई.

2021-22 में बिहार में 48, तमिलनाडु में 876 और छत्तीसगढ़ में 250 बंधुआ मज़दूरों को नकद सहायता दी गई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!