मेरी सारे किरदार अलग: परिणीति

Thursday, February 13, 2014

A A

परिणीति चोपड़ा

मुंबई | एजेंसी: अभिनेत्री परिणीति चोपड़ा को नहीं लगता कि बॉक्स ऑफिस पर उनकी छवि एक बिंदास अभिनेत्री के रूप में बंधकर रह गई है.

उन्होंने कहा, “मेरे ख्याल से यह कहना कि मैं सिर्फ बिंदास किरदार निभा रही हूं, मेरे निभाए किरदारों को बहुत संक्षिप्त रूप से देखना होगा. मेरा मतलब क्योंकि ‘लेडीज वर्सेज रिकी बहल’, ‘इश्कजादे’, ‘शुद्ध देसी रोमांस’ और ‘हंसी तो फंसी’ में मेरे किरदार अपरंपरागत हैं तो इसका मतलब यह है कि वे सभी एक जैसे हैं?”

परिणीति ने कहा, “इससे फर्क नहीं पड़ता कि अभिनेता-अभिनेत्री कौन है, उसका व्यक्तित्व किरदार में दिखता है. लेकिन मेरे लिए ‘इश्कजादे’, ‘शुद्ध देसी रोमांस’ और ‘हंसी तो फंसी’ में मेरे किरदार बिल्कुल जुदा हैं. कहीं कोई समानता नहीं है.”

अभिनेत्री की हालिया प्रदर्शित फिल्म ‘हंसी तो फंसी’ बॉक्स ऑफिस पर ज्यादा अच्छा नहीं कर पा रही है. लेकिन फिल्म में उनके अभिनय को सभी ने सराहा है. वह तारीफें मिलने से काफी खुश हैं.

परिणीति ने कहा, “मैं पूरी तरह अजीबोगरीब हास्यास्पद किरदार निभा रही थी. लोगों ने जब फिल्म की झलकियां देखीं तो सोचा कि मैं एक और बिंदास किरदार निभा रही हूं. लेकिन यह किरदार बिल्कुल जुदा है.”

परिणीति निर्देशक हबीब फैजल संग दूसरी बार ‘दावत-ए-इश्क’ में काम करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं.

उन्होंने कहा, “हबीब हमेशा खास रहेंगे. उन्होंने मुझे ‘इश्कजादे’ दी. मैंने जब हबीब सर के साथ ‘इश्कजादे’ की तो जानती थी कि मैं नवांगतुक और अनगढ़ हूं.”

परिणीति को ‘दावत-ए-इश्क’ में आदित्य रॉय कपूर और अनुपम खेर संग काम करके मजा आया.

उन्होंने कहा, “हम काफी नजदीक आ गए. अनुपम सर मेरी और आदित्या की उम्र जितने हैं. हम जल्दी से अपनी शूटिंग खत्म करते और उनकी वैन में भाग जाते. मैं पहले ही निराश हूं क्योंकि शूटिंग लगभग पूरी हो चुकी है. मैं अनुपम सर के साथ और फिल्में करना चाहती हूं.”

Tags: , , ,