अमेरिका में सिखों के प्रवास के 100वें साल पर जश्न

Tuesday, July 16, 2013

A A

सिक्ख

वाशिंगटन | एजेंसी: अमेरिका में सिख समुदाय की उपलब्धियों और सफल प्रवास के 100 साल पूरे होने के अवसर पर व्हाइट हाउस ने उनके योगदान को स्वीकार किया है.

कार्यक्रम का आयोजन पिछले सप्ताह अमृतसर निवासी भगत सिंह थिंड के जुलाई 1913 में अमेरिका आने के 100 साल पूरे होने के खुशी में किया गया. थिंड अपने एवं परिवार को बेहतर जिंदगी देने के सपने के साथ उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए अमेरिका गए थे.

थिंडे पहले पगड़ीधारी सिख थे जो अमेरिकी सेना का हिस्सा बने और खुद एवं दूसरों को वहां की नागरिकता दिलाने के लिए जीवनभर अभियान चलाते रहे.

एक शताब्दी बाद 150 सिख नेता और विभिन्न कंपनियों के मुख्य प्रबंध अधिकारी अमेरिका में उनके समुदाय की उपलब्धियों का जश्न मनाने के लिए व्हाइट हाउस में जुटे हैं.

व्हाइट हाउस आफिस ऑफ पब्लिक इनगेजमेंट के सहायक निदेशक पॉल मांटेरियो ने कहा, “इस कार्यक्रम का उद्देश्य देश में इस समुदाय के योगदान को मान्यता देने, 100 साल की उपलब्धि का जश्न मनाने, अमेरिका में प्रवास की सफलता की कहानी और ओक क्रीक की भयावह घटना को स्वीकारना है.”

मोंटेरियो ने इस दौरान कहा कि व्हाइट हाउस को उम्मीद है कि यह कार्यक्रम आने वाले समय में ओबामा प्रशासन और सिख समुदाय के बीच संवाद शुरू करेगा.

उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रवास को लेकर उपजा नकारात्मक विचार अमेरिका में सिखों की उपलब्धियों से असत्य साबित हो जाता है.

इस कार्यक्रम का आयोजन व्हाइट आफिस ऑफ पब्लिक इनगेजमेंट ने सिख काउंसिल ऑन रिलिजियस एजुकेशन (एससीओआरई) के सहयोग से किया है.

Tags: , ,