अमरीका सख्त है ईरान पर

Friday, October 4, 2013

A A

बराक ओबामा

वाशिंगटन | एजेंसी: अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का कहना है कि जब तक ईरान के साथ परमाणु मुद्दे पर कूटनीति के माध्यम से समझौता न हो जाये तब तक उस पर प्रतिबंध जारी रहेगा. बराक ओबामा ईरान के नये नेता हसन रुहानी के संदेश का इंतजार कर रहें हैं. अमरीकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता मैरी हर्फ ने कहा, ‘हम स्पष्ट करना चाहते हैं कि बातचीत के जरिए समाधान ढूंढ़ने के साथ ही हम इन प्रतिबंधों को सख्ती से लागू करना जारी रखेंगे.’

व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जे कार्नी ने कहा कि इस्राइल को ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर उसके द्वारा दिए गए अपने हर हालिया बयान पर संदेह जताने का अधिकार है, क्योंकि लंबे समय तक ईरान अपने अंतरराष्ट्रीय दायित्वों का निर्वाह करने में विफल रहा है.

कार्नी ने कहा कि ईरान के साथ सुरक्षा परिषद के स्थायी सदस्यों अमरीका, ब्रिटेन, फ्रांस, चीन और रूस व जर्मनी यानी ‘‘पी 5 प्लस 1’’ की एक और बैठक होगी. संयुक्त राष्ट्र, अमरीका और यूरोपीय संघ के कड़े प्रतिबंधों का सामना कर रहे तेहरान पर नए प्रतिबंध लगाने के बारे में अमरीकी कांग्रेस में बहस चल रही है. इस संदर्भ में एक बैठक 15 और 16 अक्तूबर का जेनेवा में होगी.

गौर तलब है कि ईरान पर प्रतिबंध लगा हुआ है जिसके मूल में उसका परमाणु कार्यक्रम है.

Tags: , ,