मिकी मेहता कांड में परिवाद दायर

Thursday, October 17, 2013

A A

मुकेश गुप्ता

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के एडीजी (इंटेलिजेंस) मुकेश गुप्ता के खिलाफ उनकी पत्नी मिकी मेहता की मृत्यु के मामले में मिकी मेहता की माँ श्यामा मेहता ने रायपुर की अदालत में परिवाद दायर किया है. न्यायालय ने मामले में साक्ष्य व बयान के लिए 7 नवंबर की तारीख तय की है.

इस परिवाद में मुकेश गुप्ता के अलावा 14 अन्य लोगों पर भारतीय दंड विधान की धारा 498 ए, 306, 304 बी, 302, 120 बी, 201, 193, 468, 471 के तहत जुर्म दर्ज करने की मांग की है. उन्होंने आशंका जताई है कि उनकी बेटी डॉ. मिकी मेहता की हत्या की गई थी. इसी के चलते उन्होंने मामले की जाँच फिर से कराने कोर्ट में परिवाद दायर किया है.

गौरतलब है कि आईपीएस अफसर मुकेश गुप्ता ने रायपुर की नेत्र चिकित्सक डॉ. मिकी मेहता से अपनी पहली पत्नी के रहते गंधर्व विवाह किया था. इसके बाद 7 सितंबर 2001 में मिकी की भिलाई स्थित अपने निवास पर संदिग्ध अवस्था में लाश पाई गई थी.

इस मामले में मिकी मेहता के परिवार ने मुकेश गुप्ता के उपर मिकी को मानसिक व शारिरिक रूप से प्रताड़ित करने और फिर उसकी हत्या करने के आरोप लगाए थे. उन्होंने कई बार मुकेश गुप्ता द्वारा डराने-धमकाने की शिकायत भी शासन से की है. हालांकि उनके बार-बार इस तरह के आरोप लगाने के बावजूद मामला पिछले 10 साल से ठंडे बस्ते में पड़ा हुआ है.

इस मामले में गृह मंत्रालय ने भी छत्तीसगढ़ सरकार से इस मामले को फिर से शुरु करने को कहा है. हाल ही में राज्य के गृहमँत्री ननकीराम कंवर ने भी कहा है कि वे वह प्रमुख सचिव से मामले की फाइल दोबारा खुलवाने की बात करेंगे और पूछेंगे कि मामले में क्या कारवाई हुई है. उन्होंने यह भी कहा था कि वे कोई उचित कार्रवाई न होने की स्थिति में मुख्यमंत्री को पूरी जानकारी भी देंगे.

Tags: , , ,