रणजी ट्रॉफी: चेन्नई में 16 विकेट गिरे

Tuesday, December 31, 2013

A A

क्रिकेट- टी-20

नई दिल्ली | एजेंसी: रणजी ट्रॉफी के लीग चरण के आखिरी मुकाबले सोमवार को शुरू हो गए, जो नॉकआउट चरण में पहुंचने वाली टीमों का फैसला करेंगे. पहले दिन के मैच में सौराष्ट्र क्रिकेट संघ स्टेडियम में ग्रुप बी के तहत सर्विसेज और सौराष्ट्र के बीच मैच में जहां 19 विकेट गिरे, वहीं एमए चिदम्बरम स्टेडियम में बंगाल और तमिलनाडु के बीच जारी ग्रुप-बी मुकाबले में 16 बल्लेबाज धराशायी हुए.

सौराष्ट्र के कमलेश मकवाना ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी सर्विसेज के छह बल्लेबाजों को चलता कर सर्विसेज की पहली पारी महज 72 रनों पर समेट दी, हालांकि सर्विसेज ने भी पलटवार करते हुए पहले दिन का खेल समाप्त होने तक सौराष्ट्र के 176 रनों पर नौ विकेट चटका दिए.

मकवाना ने 6.4 ओवर गेंदबाजी की, जिसमें उन्होंने 2.55 के औसत से 17 रन दिए और छह विकेट चटकाए. सौराष्ट्र के लिए चिराग पाठक और सागर जोगियानी ने पहले विकेट के लिए 80 रनों की साझेदारी की. शेल्डन जैक्सन का विकेट गिरते ही पहले दिन का खेल समाप्त घोषित कर दिया गया.

दूसरी तरफ एमए चिदंबरम स्टेडियम में तमिलनाडु ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी कर रही बंगाल की पहली पारी 130 रनों पर समेट दी, हालांकि इसके बाद बल्लेबाजी करते हुए तमिलनाडु ने भी स्टम्प्स तक 66 रनों पर छह विकेट गंवा दिए.

इससे पहले, तमिलनाडु के गेंदबाज एम. रंगराजन ने बंगाल को अपनी शानदार गेंदबाजी से झकझोर दिया.

कर्नाटक के आगे दिल्ली बेबस:

फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में ग्रुप ए के अपने आखिरी मुकाबले में दिल्ली कर्नाटक के गेंदबाजों के आगे बेबस नजर आई, और पहली पारी में 202 के स्कोर पर धराशायी हो गई.

कोटला में पहले दिन खराब मौसम के चलते लगभग 69 ओवरों का ही खेल हो सका, तथा दिन का खेल समाप्त होने तक कर्नाटक ने बिना कोई विकेट गंवाए एक ओवर में दो रन बना लिए.

कप्तान गौतम गंभीर और अनुभवी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने पहले विकेट के लिए 51 रनों की साझेदारी कर दिल्ली को ठीकठाक शुरुआत दी, लेकिन रोनित मोरे की गेंद पर सहवाग के आउट होने के बाद सिर्फ गंभीर ही कुछ देर तक कर्नाटक के गेंदबाजों का सामना कर सके.

टूर्नामेंट में अब तक प्रभाव छोड़ने में असफल रहे सहवाग करो या मरो वाले मैच में गंभीर के साथ पारी की शुरुआत करने उतरे, और आउट से पहले अपने पुराने लय में दिखे. सहवाग ने 31 गेंदों में पांच चौके लगाए.

कर्नाटक के लिए विनय ने चार, शरत ने तीन, श्रेयस गोपाल ने दो और मोरे ने एक विकेट हासिल किया.

वोहरा की बदौलत पंजाब मजबूत :

पंजाब क्रिकेट टीम ने धनबाद के रेलवे स्टेडियम में हुए ग्रुप-ए के मुकाबले में झारखंड के खिलाफ स्टम्प्स तक चार विकेट पर 380 रन बना लिए. टॉस जीतकर बल्लेबाजी करने उतरी पंजाब के लिए मनन वोहरा और जीवनजोत सिंह ने सलामी जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 138 रनों की साझेदारी की.

जीवनजोत का विकेट चटकाकर समर कादरी ने इस शतकीय साझेदारी को तोड़ा. जीवनजोत ने 78 गेंदों में 15 चौके लगाए.

वोहरा ने हालांकि लगभग पूरे दिन एक छोर संभाले रखा. उन्होंने उदय कौल, युवराज सिंह और कप्तान मंदीप सिंह के साथ दूसरे, तीसरे और चौथे विकेट के लिए क्रमश: 54, 89 और 98 रनों की साझेदारी निभाई.

वोहरा दिन का खेल समाप्त होने से एक ओवर पहले वरुण आरोन की गेंद पर विकेट के पीछे लपक लिए गए. वोहरा ने 273 गेंदों की अपनी शानदार पारी में 24 चौके और तीन छक्का लगाया.

मंदीप सिंह के साथ सिद्धार्थ कौल बिना खाता खोले नाबाद लौटे. मंदीप ने अपनी 57 गेंदों की अब तक की पारी में सात चौके लगाए हैं.

झारखंड के लिए अब तक कादरी ने दो तथा आरोन और शाबाज नदीम ने एक-एक सफलता हासिल की है.

उत्तर प्रदेश के खिलाफ शुरुआती झटकों के बाद संभला रेलवे :

लखनऊ के अखिलेश दास स्टेडियम में ग्रुप बी के एक मुकाबले में रेलवे ने उत्तर प्रदेश के खिलाफ शुरुआती झटकों से उबरते हुए पहले दिन का खेल समाप्त होने तक चार विकेट पर 301 रन बना लिए.

रेलवे के शुरुआती तीन विकेट 81 रन पर गिर चुके थे, लेकिन अरिंदम घोष ने पहले रोंगसेन जोनाथन के साथ चौथे विकेट के लिए 85 रनों की साझेदारी कर फिर पांचवें विकेट के लिए महेश रावत के साथ नाबाद 135 रनों की साझेदारी कर रेलवे को मजबूत स्थिति में ला दिया.

मैच के पहले दिन स्टम्प्स तक घोष 89 और रावत 83 रन पर नाबाद लौटे.

उत्तर प्रदेश के लिए अंकित राजपूत ने दो और एम्तियाज अहमद तथा पियुष चावला ने एक-एक विकेट हासिल किए.

Tags: ,