बाघिन और 3 शावकों के जाल में उलझा मीडिया

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के इंद्रावती टाइगर रिज़र्व में एक बाघिन और तीन शावकों की तस्वीर सोमवार को राजधानी रायपुर के सभी प्रमुख अख़बारों में प्रकाशित हुई हैं. लेकिन असल में यह तस्वीर कई महीने पुरानी है और सोशल मीडिया पर अलग-अलग जगह की बता कर प्रकाशित होती रही है.

हालत ये है कि पिछले साल भर से देश के जाने-माने चैनल भी इस बाघिन और शावकों का वीडियो, अलग-अलग जगहों का बता कर टेलीकास्ट करते रहे हैं.


इस साल 25 मार्च 2021 को चंपावत ख़बर नामक एक यूट्यूब चैनल ने बाघिन और उसके शावकों का वीडियो अपलोड किया. बताया गया कि यह टनकपुर के ककराली गेट के पास का वीडियो है. टनकपुर, उत्तराखंड के नंधौर वन्य अभ्यारण्य से लगा हुआ हिस्सा है.

फिर नवंबर के महीने में इसी तरह का एक वीडियो पेंच नेशनल पार्क का बता कर सोशल मीडिया पर साझा किया गया.

इसके बाद टनकपुर ककराली का 25 मार्च 2021 का क्लिप, ABP न्यूज ने 11 दिसंबर को अपने चैनल पर भी प्रसारित किया और इसे यू ट्यूब पर भी साझा किया. इसे सोनभद्र का वीडियो बताया गया.

इसी दिन यानी 11 दिसंबर 2021 को ही नवभारत टाइम्स ने भी इस वीडियो को अपने यू ट्यूब चैनल पर साझा किया.

16 दिसंबर 2021 को इसी क्लिप को zee news ने भोपाल के केरवा डैम के पास का बता कर साझा किया.

28 दिसंबर 2021 को इसी क्लिप को पहाड़ न्यूज नामक यू ट्यूब चैनल ने नैनीताल का बता कर साझा किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!