सी वोटर के सच्चे सर्वे

रायपुर | संवाददाता: सी वोटर के चुनावी सर्वेक्षण के पुराने आंकड़े बहुत दिलचस्प हैं. खास कर 2013 में हुये चुनाव में छत्तीसगढ़ की विधानसभा की सीटों को लेकर किये गये सर्वे के अनुमान तो चौंकाने वाले साबित हुये हैं.

गौरतलब है कि एक दिन पहले ही सी वोटर का एक चुनावी सर्वेक्षण सामने आया है, जो एबीपी ने करवाया है. इस सर्वेक्षण के अनुसार छत्तीसगढ़ में एबीपी न्यूज- सी वोटर के ओपिनियन पोल के अनुसार इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा को 39%, कांग्रेस को 40% और अन्य को 21% वोट मिलेंगे.


छत्तीसगढ़ में विधानसभा की कुल 90 सीट है और वोट शेयर में महज एक प्रतिशत का अंतर होने के बावजूद सीटों में भारी अंतर दिख रहा है. एबीपी न्यूज सी वोटर सर्वे के मुताबिक छत्तीसगढ़ में लोग सत्ता परिवर्तन चाहते हैं. कांग्रेस 54 सीटों के साथ बहुमत पा सकती है. सर्वे के मुताबिक भाजपा 33 सीटों पर सिमट सकती है. अर्थात 2013 के नतीजों के नजरिए से देखें तो भाजपा को 16 सीटों का नुकसान और कांग्रेस को 15 सीटों का फायदा हो रहा है.

इस सर्वे के अनुसार छत्तीसगढ़ में सीएम की पहली पसंद रमन सिंह हैं. उन्हें 34 प्रतिशत लोग सीएम के रूप में अपनी पहली पसंद बता रहे हैं तो अजीत जोगी को 17 प्रतिशत लोग पसंद कर रहे हैं. जबकि कांग्रेस नेता भूपेश बघेल को महज 9 प्रतिशत लोगों ने अपनी पसंद बताया है.

क्या कहते हैं सी वोटर के पुराने सर्वे
16 अगस्त 2013
छत्तीसगढ़ में 2013 के विधानसभा चुनाव से ठीक पहले अगस्त के महीने में ही, 16 अगस्त 2013 को सी वोटर ने इंडिया टूडे के लिये जो चुनावी सर्वे किया था, उसमें दावा किया गया था कि छत्तीसगढ़ में फिर से भाजपा की सरकार बनती नजर आ रही है.

इस सर्वेक्षण के अनुसार 90 सीटों वाले छत्तीसगढ़ विधानसभा में भाजपा को 45 सीटें मिलने का अनुमान था तो कांग्रेस को 42 सीटें दी गई थीं.

19 सितंबर 2013
इस सर्वेक्षण के एक महीने बाद 19 सितंबर 2013 सी वोटर ने टाइम्स नाउ के साथ मिल कर विधानसभा चुनाव का सर्वेक्षण प्रसारित किया था, जिसके अनुसार 2013 के चुनाव में भी रमन सिंह की सरकार बनने पर मुहर लगाई गई थी.

इस सर्वेक्षण में भाजपा को 47, कांग्रेस को 40, बसपा को 2 और अन्य को 1 सीट मिलने के आसार जताये गये थे.

चुनाव के जब परिणाम आयें तो पता चला कि भारतीय जनता पार्टी को 49 सीटें मिली थीं और कांग्रेस पार्टी ने 39 सीटों पर अपना कब्जा जमाया था. जबकि बसपा को एक सीट से संतोष करना पड़ा.

2008 में भाजपा थी आगे
इससे पहले 2008 में सी वोटर ने द वीक के लिये किये गये सर्वे में अनुमान लगाया था कि छत्तीसगढ़ में भाजपा को 44 से 52 सीटें मिल सकती हैं. इसी तरह यहां कांग्रेस को 48 से 46 सीटें मिलने का अनुमान लगाया गया था.

2008 का जब परिणाम आया तो वह सी वोटर के सर्वेक्षण के बहुत करीब तो नहीं लेकिन आसपास था. भारतीय जनता पार्टी को यहां 50 सीटें मिली थीं, जबकि कांग्रेस पार्टी को 38 सीटें मिली थीं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!