रायपुर रेलवे स्टेशन पर कुलियों का हंगामा

Tuesday, December 24, 2013

A A

रायपुर रेलवे स्टेशन

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ में रेलवे स्टेशन पर बोझा उठाने का काम करने वाले कुलियों ने सोमवार को निजीकरण के विरोध में हंगामा कर दिया. कुलियों का आरोप है कि बिना किसी सूचना के रेलवे ने उन्हें काम बंद करने की चेतावनी दे दी है और काम निजी कंपनी को सौंप दिया गया है

जानकारी के अनुसार, रेलवे प्रशासन और लाइसेंसी कुलियों के बीच काफी समय से विवाद चला आ रहा है. रेल प्रशासन ने अपनी यात्रियों का सामान, पार्सल ढोने का काम एक निजी कंपनी को ठेके पर दे दिया है. इसको लेकर कुली विरोध में हैं और कंपनी के कर्मचारी रेलवे स्टेशन में काम करने पहुंचे तो वहां यात्रियों ने हंगामा कर दिया.

उन्होंने कंपनी को काम करने से रोक दिया और जोर-जबरदस्ती पर उतर आए. उन्होंने कंपनी के कर्मचारियों को प्लेटफार्म पर पड़ा पार्सल नहीं उठाने दिया और रेलवे स्टेशन पर नारेबाजी करने लगे.

रेलवे पोटर संघ के अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश साहू ने बताया कि रेलवे ने उनके साथ दगाबाजी की है. रायपुर रेलवे स्टेशन पर 70 कुली प्लेटफार्म तथा 40 पार्सल पोर्टर पार्सल उठाने का काम करते हैं. लगभग पचास साल से ये कुली रेलवे द्वारा मिले लायसेंस के आधार पर काम कर रहे हैं. रेलवे ने उन्हें बिना कुछ सूचना दिए आज से निजी कंपनी को काम पर बुला लिया है. रेलवे द्वारा अगर उन्हें काम से हटाया जाता है तो उनके सामने रोजी-रोटी के लाले आ जाएगा.

रेलवे पोर्टर संघ के अध्यक्ष साहू का कहना है कि इस बारे में उन्होंने डीआरएम तथा रेलवे के अन्य अधिकारियों से चर्चा करने की कोशिश की है, मगर उन्हें अब तक किसी तरह का संतोषजनक जवाब नहीं मिला है.

इधर, ठेका लेने वाले कंपनी का काम संभालने वाले चित्ती बाबू का कहना है कि रेल प्रशासन और कुलियों के बीच विवाद चल रहा है, जिस कारण उन्हें काम नहीं करने दिया जा रहा है. वे रेलवे द्वारा प्राप्त आदेश के बाद ही काम पर पहुंचे थे.

Tags: , , ,