माओवादी सव्यसाची पंडा गिरफ्तार

Friday, July 18, 2014

A A

सब्यसाची पंडा

भुवनेश्वर | संवाददाता: माओवादी नेता सव्यसाची पंडा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. कभी ओडिशा में सीपीआई माओवादी का शीर्ष नेता रहे सव्यसाची पंडा उर्फ सुनील को बाद में संगठन ने निकाल दिया था. इसके बाद से सव्यसाची पंडा ने सीपीआई मार्क्सवादी लेनिनवादी माओवादी नाम से अपना अलग संगठन बना लिया था. पंडा पर 20 लाख रुपये का इनाम था. सव्यसाची पंडा के पिता किसी ज़माने में ओडिशा में विधानसभा के सदस्य रहे हैं.

सीपीआई माओवादी की सेंट्रल कमेटी में रहे सव्यसाची पंडा ने जुलाई 2012 में संगठन में बगावत कर दी. 14 जुलाई को सव्यसाची ने संगठन के केंद्रीय साधारण संपादक मुपाला लक्ष्मण राव उर्फ गणपति को लिखे गए 16 पन्ने वाले पत्र में माओवादी शिविर में चल रहे अमानवीय कांड, नेतृत्व के अनैतिक हुक्म एवं शोषण का जिक्र किया था। नक्सली शिविर से निकलकर आत्मसमर्पण कर रहे कैडर, विशेष रूप से महिला कैडरों के यौन शोषण एवं उनके साथ किए जा रहे अमानवीय कृत्यों के बारे में विस्तार से इस पत्र लिखा गया था।

इसके बाद सव्यसाची को संगठन से बहिष्कृत किए जाने के बारे में सूचना मिली थी। हालांकि तब संगठन की ओर से इसकी पुष्टि नहीं की गई थी। मगर सीपीआइ (माओवादी) के पोलित ब्यूरो के सदस्य कटकम सुदर्शन उर्फ आनंद ने अगस्त में इसकी पुष्टि की थी.

इन घटनाओं के दौरान सव्यसाची पंडा ने ओड़िशा माओवादी पार्टी के नाम से नया संगठन भी बना लिया था. जिसका नाम बदल कर बाद में सीपीआई मार्क्सवादी लेनिनवादी माओवादी कर दिया गया था.

पुलिस ने इस दौरान सव्यसाची पंडा की पत्‍‌नी मिली पंडा को भी हिरासत में लिया था. लेकिन मिली को बाद में रिहा कर दिया गया. पुलिस के कुछ अधिकारी भी सव्यसाची पंडा की आत्मसमर्पण की कोशिश में लगे हुये थे.

Tags: , , , ,