छत्तीसगढ़: एसटीएफ के 7 जवान निलंबित

Tuesday, September 15, 2015

A A

निलंबन

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के पालनार में शनिवार को शराब पीकर ग्रामीणों की पिटाई करने वाले सात एसटीएफ के जवानों को निलंबित कर दिया गया. एसटीएफ के जवानों ने शनिवार को सोनी सोरी के भाई रामदेव सोरी आधा दर्जन ग्रामीणों के साथ मारपीट की थी. जिसके कारण एक ग्रामीण का हाथ टूट गया है.

सोमवार को एसटीएफ के अधीक्षक जीएस दर्रो ने उन्ही सातों जवानों को निलंबित कर दिया है. निलंबित एसटीएफ के जवानों के नाम हैं- प्रधान आरक्षक असोक साहू, आरक्षक भूपेन्द्र निषाद, नारद सिंह कंवर, गजेन्द्र ठाकुर, कृष्णानंद कुशवाहा, नागेश्वर निर्मलकर तथा जितेन्द्र सिंह. निलंबन अवधि में आरक्षक तथा प्रधान आरक्षक को दुर्ग एसटीएफ मुख्यालय अटैच कर दिया गया है.

निलंबन पत्र में एसटीएफ के अधीक्षक जीएस दर्रो ने पालनार में धक्कामुक्की करने को घोर अनुशासनहीनता माना है.

उल्लेखनीय है कि एसटीएफ जवानों के पर आरोप है कि उन्होंने नशे में धुत होकर ग्रामीणों व दुकानदारों से मारपीट करने, दुकानों में लूटपाट की. इसके विरोध में रविवार को पालनार में दुकाने बेद रही तथा ग्रामीणों एवं दुकानदारों ने मिलकर चक्काजाम किया था.

घायल ग्रामीणों में अनंत राम सिन्हा, राजू सोरी, आशाराम सिन्हा, संतुराम सिन्हा, लक्ष्मीचंद सिन्हा एवं आप नेत्री सोनी सोरी के भाई रामदेव सोरी शामिल हैं. इस प्रकरण से पालनार निवासी भयभीत हैं और वे अपनी सुरक्षा के प्रति आशान्वित नहीं हैं.

Tags: , , , , , , , ,