छत्तीसगढ़: बिलासपुर का बुजुर्ग लापता

Monday, April 27, 2015

A A

सूरज प्रसाद पांडे

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर निवासी रिटायर्ड प्रोफेसर सूरज प्रसाद पांडे भी नेपाल में भूकंप के बाद से लापता हैं. भूकंप के बाद से उनकी कोई खबर नहीं है. उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है. परिजनों के मुताबिक, प्रो. पांडे का लक्ष्य सभी ज्योतिर्लिगों की यात्रा करना है. परिवार ने अपील की है कि अगर किसी को प्रो. पांडे के बारे में जानकारी मिले तो वे इस नंबर 9619008000 पर सूचना दे सकते हैं.

परिजनों के लिए सबसे ज्यादा चिंता की बात यह है कि 78 वर्षीय प्रो. पांडे अकेले ही नेपाल यात्रा पर गए हैं. उनके साथ न तो परिवार का कोई सदस्य है, न ही परिचित, न मित्र. उनके मंझले बेटे गिरीश, जो मुंबई स्थित कंपनी एमएनसी में वाइस प्रेसीडेंट के पद पर हैं, अपने पिता को खोजने निकल पड़े हैं.

उन्होंने बताया कि उनके पिता ने आखिरी बार उनसे हुई बातचीत में कहा था कि वे कुछ ही देर में भगवान पशुपतिनाथ के दर्शन के लिए निकलने वाले हैं. इस बातचीत के करीब दो घंटे बाद प्रकृति का कहर नेपाल पर टूटा.

परिवार के सदस्यों से मिली जानकारी के मुताबिक, प्रो. पांडे को घूमने का शौक है, भौगोलिक स्थितियों को जानने वे अमूमन अकेले ही यात्रा करते हैं. कई ज्योतिर्लिगों की यात्रा कर चुके प्रो. पांडे इससे पहले भी नेपाल की यात्रा और पशुपतिनाथ के दर्शन कर चुके हैं.

नेपाल में हुई तबाही का मंजर देखने के बाद से पांडे परिवार का हर सदस्य परेशान है, परिवार के कई सदस्यों ने खाना नहीं खाया है और रात भी जागकर गुजार रहे हैं. हर किसी को बस इंतजार है प्रो. पांडे की सकुशल वापसी का.

परिवार के सदस्य भगवान से सब कुछ ठीक रखने की प्रार्थना कर रहे हैं. पारिवारिक सदस्यों के अलावा उनके नाते-रिश्तेदार, दोस्त भी प्रार्थना कर रहे हैं. प्रो. पांडे के अलावा छत्तीसगढ़ के किसी अन्य व्यक्ति के नेपाल में फंसे होने की जानकारी फिलहाल नहीं है.

छत्तीसगढ़ के प्रो. पांडे के बड़े बेटे शिरीष बिलासपुर में लेक्चरर हैं, मंझले बेटे गिरीश एमएनसी मुंबई में वॉइस प्रेसीडेंट और छोटे बेटे आशीष बिलासपुर उच्च न्यायालय में वकील हैं. प्रो. पांडे की 4 बेटियां हैं. वर्ष 2011 में उनकी पत्नी का देहांत हो चुका है.

Tags: , , , , , ,