मांझी के समर्थन में आई भाजपा

Wednesday, February 18, 2015

A A

जीतन राम मांझी- पूर्व मुख्यमंत्री

पटना | एजेंसी: बिहार जदयू में चल रहे सत्ता संघर्ष के बीच जीतन राम मांझी को बुधवार को कई राहत वाली खबर मिली. पटना उच्च न्यायालय ने जहां मांझी को बड़ी राहत देते हुए नीतिगत फैसले लेने पर लगी रोक हटा ली वहीं भारतीय जनता पार्टी विधायक दल की बैठक में अधिकांश विधायक सदन में मांझी को समर्थन देने के पक्ष में नजर आए. हालांकि इसकी औपचारिक घोषणा गुरुवार को भाजपा विधायक दल की बैठक के बाद की जाएगी. पटना में भाजपा विधायक दल की बुधवार शाम बैठक हुई. बैठक में विधानसभा में मुख्यमंत्री मांझी के बहुमत साबित करने के दौरान समर्थन देने के मामले पर चर्चा की गई.

भाजपा के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता विनोद नारायण झा ने बैठक के बाद पत्रकारों को बताया कि बैठक में अधिकांश विधायक मांझी सरकार को सदन में समर्थन देने के पक्ष में दिखे. उन्होंने कहा कि इस मामले को लेकर गुरुवार को भी भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई है. इसके बाद ही कोई औपचारिक घोषणा की जाएगी.

गौरतलब है कि राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने मांझी को 20 फरवरी को विधानसभा में बहुमत साबित करने का निर्देश दिया है.

इधर, मुख्यमंत्री मांझी को पटना उच्च न्यायालय से भी बड़ी राहत मिली है. पटना उच्च न्यायालय ने मांझी के नीतिगत फैसले लेने पर लगी रोक हटा ली है.

पूर्व में उच्च न्यायालय ने मांझी पर नीतिगत फैसले लेने पर रोक लगा दी थी.

सरकार की ओर से बहस कर रहे अधिवक्ता वरुण कुमार सिन्हा ने बताया कि सरकार ने फैसले लेने पर लगी रोक हटाने के लिए उच्च न्यायालय में एक आवेदन दिया था. आवदेन पर सुनवाई करने के बाद न्यायालय ने मांझी सरकार पर लगी रोक हटा ली है.

न्यायालय ने हालांकि सरकार के लिए गए फैसले पर 20 फरवरी के बाद ही अमल करने का निर्देश सरकार को दिया है.

उल्लेखनीय है कि उच्च न्यायालय ने जदयू के प्रवक्ता नीरज कुमार की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सोमवार को मांझी के वित्तीय और नीतिगत फैसले लेने पर रोक लगा दी थी.

जदयू की ओर से अधिवक्ता पी. के. शाही ने पक्ष रखा.

Tags: , , , , , ,