परखेंगे घोटाला संबंधी सीडी की सत्यता: रमन

बिलासपुर: इंदिरा प्रियदर्शिनी बैंक घोटाले में घूस लेने का आरोप झेल रहे छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने घोटाला उजागर होने के तीसरे दिन चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि घोटाला संबंधी सीडी की सत्यता परखी जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि सीडी प्रकरण का आगामी विधानसभा चुनावों में कोई असर नहीं पड़ेगा.

रमन सिंह ने बिलासपुर संभाग के मुंगेली जिले में एक आमसभा को संबोधित करने के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि आरोप लगाने वाला खुद 30 करोड़ रुपये के घोटाले का दोषी है. इससे पहले भी छत्तीसगढ़ भाजपा ने घूस लेने के आरोपों को इंकार करते हुए कहा था कि यह सीडी फर्जी है.

उधर राज्य कांग्रेस ने सोमवार को फिर रायपुर में पत्रकार वार्ता बुलाकर फिर से मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनके मंत्रियों पर हमला बोला. भूपेश बघेल और शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा कि सरकार इस मामले से अब ध्यान भटकाने की कोशिश में लगी है.

उन्होंने कहा कि भाजपा के चारों आरोपी मंत्री दिल्ली में अपने आलाकमान को सफाई देने गए हैं. कांग्रेस ने मांग की है कि स्थानीय पुलिस इस मामले की सही और निष्पक्ष जांच नहीं कर पाएगी, इसलिए जांच सीबीआई से कराई जाए.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले शनिवार को कांग्रेस ने 47 करोड़ के इंदिरा प्रियदर्शिनी बैंक घोटाले मामले के मुख्य अरोपियों में से एक बैंक मैनेजर उमेश सिन्हा के नार्को टेस्ट की सीडी जारी करते हुए राज्य के मुख्यमंत्री रमन सिंह समेत चार मंत्रियों और एक पूर्व डीजीपी पर मामले में घूस लेने का आरोप लगाया था.

error: Content is protected !!