रेलवे जीएम के साथ गाने से इंकार पर तबादला

रायपुर | संवाददाता: रेलवे जीएम के साथ आधी रात को पार्टी में गाने से इंकार करने पर महिला क्लर्क का तबादला कर दिया गया. छत्तीसगढ़ के रायपुर में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे जोन के महाप्रबंधक सत्येंद्र कुमार के साथ एक खास गाने से इंकार करने पर महिला क्लर्क को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है. नोटिस में कहा गया है कि इस महिला क्लर्क को अगले छह महीने तक किसी भी आयोजन में भाग नहीं लेने दिया जाये.

रेलवे के बिलासपुर जोन के महाप्रबंधक सत्येंद्र कुमार इसी माह रिटायर होने वाले हैं. 16 जनवरी को उन्हें विदाई देने के लिये पार्टी रखी गई थी. रात डेढ़ बजे महाप्रबंधक सत्येंद्र कुमार ने महिला क्लर्क के साथ एक खास गाने पर साथ में युगल गीत गाने की फरमाईश कर दी. महिला क्लर्क द्वारा इंकार किये जाने के बाद रेलवे के अफसर उस पर खफा हो गये.

पार्टी में उपस्थित रेलवे अफसरों के अनुसार कल्चरल कोटे से रेलवे में नियुक्त महिला क्लर्क को कुछ गाने पेश करने के लिये कहा गया. जब वह गाना गा रही थी तो रात के डेढ़ बजे महाप्रबंधक सत्येंद्र कुमार ने उसके साथ एक खास गाना गाने की फरमाईश कर दी. महिला क्लर्क ने गाने की रिहर्सल न होने की बात करके गाने से इंकार कर दिया था.

यह बात रेलवे के अधिकारियों को पसंद नहीं आई और रेलवे के रायपुर मंडल के डीएमई आर रंगा राव ने महिला क्लर्क को इस परे घटनाक्रम का उल्लेख करते हुये कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया. नोटिस में कहा गया है कि कल्चरल कोटे के तहत नियुक्त हुई रेलवे कर्मचारी का यह व्यवहार अनुचित है. क्यों न आपके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाये. नोटिस में पूरे घटना का सिलसिलेवार विवरण दिया गया है.

रेलवे के अफ़सर इस महिला क्लर्क से इतने नाराज थे कि उन्होंने नोटिस का जवाब दिये जाने के पहले ही उस दो दिन पहले रायपुर से भिलाई अटैच कर दिया.

इस कार्यवाही को लेकर रेलवे कर्मचारियों में अंदर ही अंदर असंतोष है. लोग सवाल कर रहे हैं कि महिला कर्मचारी को रात डेढ़ बजे तक पार्टी के लिये ऑफिसर्स मेस में रोकना कहां तक उचित है. किसी महिला कर्मचारी को कैसे किसी पुरुष अफसर के साथ गाने के लिये बाध्य किया जा सकता है.

सूत्रों का कहना है कि रात में पार्टी के समय कुछ अफसरों की ‘हरकतों’ की वजह से माहौल बिगड़ा था. जिस कारण से महिला क्लर्क दहशत में थी तथा उसने गाने से इंकार कर दिया.

इधर रेलवे के अधिकारियों ने कहा है कि उन्होंने नियमानुसार नोटिस जारी किया है औऱ इसमें कुछ भी गलत नहीं है. रायपुर के डीआरएम राहुल गौतम ने कहा कि महिला क्लर्क ने जो कुछ किया है, वह अनुशासनहीनता है, इसलिये उसे नोटिस दिया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!