छत्तीसगढ़ रईस मिलर्स की हड़ताल खत्म

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में राईस मिलर्स की हड़ताल खत्म हो गई है. छत्तीसगढ़ के राईस मिलर्स द्वारा सरकार की नई कस्टम मिलिंग नीति के विरोध में अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरु की गई थी. बीच में वार्ता का एक दौर भी चला. जिसके बाद राईस मिलर्स एसोशियेशन में आपसी मतभेद उभर कर सामने आये.

बिलासपुर तथा दुर्ग के मिलर्स हड़ताल खत्म करने के पक्ष में दिखें. उधर, शनिवार को शासन ने कड़ी कार्यवाही करते हुये 290 राईस मिलर्स को ब्लैक लिस्टेड कर दिया. उनके अनुंबध को निरस्त करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई. कई मिलों की बिजली काट दी गई.


रविवार को राईस मिलर्स ने अपने 15 दिनों से चले आ रहे हड़ताल के खात्में की घोषणा कर दी. अब मिलर्स धान खरीदी केन्द्र से धान उठायेंगे.

राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ राईस मिलर्स एसोसिएशन द्वारा आज अपनी हड़ताल वापस लिये जाने की घोषणा का स्वागत किया है. खाद्य, नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता संरक्षण विभाग की सचिव ऋचा शर्मा ने इसके लिये मिलरों को धन्यवाद दिया है.

उन्होंने उम्मीद जतायी है कि राईस मिलर्स कस्टम मिलिंग के कार्य में सरकार के साथ सहयोग बनाये रखेंगे, ताकि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लिए चावल की पर्याप्त उपलब्धता बनी रहे और राशन दुकानों के जरिए गरीबों को चावल की आपूर्ति नियमित रूप से जारी रहे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!