लबालब भरे छत्तीसगढ़ के आधे जलाशय

रायपुर | संवाददाता: बीते सावन महीने भर हुई लगातार मानसूनी बारिश के फलस्वरूप छत्तीसगढ़ के आधे बड़े एवं मध्यम श्रेणी के सिंचाई जलाशय लबालब हो चुके हैं. जल संसाधन विभाग के रायपुर स्थित डाटा सेन्टर से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रदेश के 42 सिंचाई जलाशयों में औसतन रूप से 94 फीसदी से अधिक जल भराव हो गया है.

इन 42 में से 21 जलाशय 100 प्रतिशत भर चुके हैं. डाटा सेंटर द्वारा मंगलवार को जारी टैंक गेज रिपोर्ट के अनुसार प्रदेश का सबसे बड़ा बांध मिनीमाता बांगो 96.20 फीसदी भर गया है. रायगढ़ जिले के खम्हार पाकुट जलाशय में निर्धारित क्षमता का केवल 17.96 प्रतिशत जल भराव हुआ है.


इसके बाद सबसे कम सरगुजा जिले के बांकी जलाशय 26.83 प्रतिशत ही भर पाया है. प्रदेश के इन सभी जलाशयों में छह हजार 266 मिलियन घनमीटर जल भराव की क्षमता है. इस क्षमता की तुलना में अभी तक पांच हजार 872 मिलियन घनमीटर पानी का भराव हो चुका है.

गौरतलब है कि इन सिंचाई जलाशयों का उपयोग साल भर छत्तीसगढ़ में सिंचाई के लिये होता है. इस कारण से इनका भरना खेती-किसानी के अच्छा माना जा रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!