छत्तीसगढ़: बैंक डकैती की थी योजना

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ पुलिस की सतर्कता से बड़ी बैंक डकैती टल गई. छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में पुलिस ने मणप्पुरम गोल्ड लोन बैंक से 150 करोड़ रुपयों के गहनों की डकैती करने की फुलप्रूफ तैयारी करने वाले दो शख्स को गिरफ्तार कर लिया है. डकैतो ने राज्योत्सव की तैयारी के चलते पुलिस व्यवस्था देखकर बैंक लूटने की योजना के फिलहाल टाल दिया था. डकैत छट पूजा के बाद बैंक से गहने लूटने वाले थे.

मुखबिर से पुलिस को सूचना मिली थी कि एक शख्स हथियार जमा कर रहा है. पुलिस जब हथियार जब्त करने पहुंची तो इस बड़े बैंक डकैती का खुलासा हुआ. पुलिस उस समय हैरान रह गई उन्होंने देखा कि डकैतो ने बिस्तर के नीचे से एक तहखाना बनाकर रखा है जिसमें लूटे हुये गहने छुपाये जाने थे.

||डकैतो के घर के तहखाने का दूसरा दरवाजा पिछवाड़े की गली में जाकर खुलता था जिसे पुलिस आने पर भागने के लिये बनाया गया था.||

रायपुर पुलिस ने हथियारों को जमा करने की खबर पाकर अविवा ग्रीन सिटी के मकान नंबर 134 में रहने वाले पिता-पुत्र 49 वर्षीय समीर अली तथा 27 वर्षीय इरफान अली को गिरफ्तार किया है. पुलिस को मौके से 2 पिस्टल, 2 रिवाल्वर, 315 बोर के कारतूस तथा चाकू मिले हैं. पुलिस को यहां पर 3 कार भी मिले हैं जिन्हें डकैती के समय उपयोग में लाया जाने वाला था. समीर अली हाल ही में वाहन चोरी के मामले में जेल से छूटा था.

समीर अली ने उत्तरप्रदेश के तीन लोग चंद्रिका, रमेश व कन्हैया के साथ मिलकर बैंक डकैती की योजना बनाई थी. तीनों डकैत 23 अक्टूबर को रायपुर पहुंच भी चुके थे परन्तु राज्योत्सव के चलते पुलिस की जांच देखकर चकरा गये. उन्होंने डकैती की योजना छट पूजा के बाद करने का फैसला किया तथा लौट गये.

रायपुर पुलिस ने फिलहाल पिता-पुत्र को गिरफ्तार कर लिया है तथा हथियार जब्त कर लिये हैं. पुलिस उनके साथियों की तलाश में उत्तरप्रदेश जायेगी. जल्द ही उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा. रायपुर में अब तक की सबसे बड़ी डकैती पुलिस की सतर्कता की वजह से टल गई. पिता-पुत्र ने करीब 150 करोड़ रुपये के डकैती की फुलप्रूफ प्लानिंग की थी.

पुलिस के अनुसार मणप्पुरम गोल्ड लोन बैंक में हर रोज करोड़ों रुपये के गहने गिरवी पर रखे जाते हैं. ज्यादातर गहने ऑफिस में ही रखे जाते थे.

ऐसे में उत्तरप्रदेश के गैंग की नजर मणप्पुरम गोल्ड बैंक पर थी. रेकी के दौरान गैंग सुरक्षा गार्ड की गतिविधियों पर भी नजर रख रहा था. इस खबर से गोल्ड बैंक में भी हड़कंप मचा है.

error: Content is protected !!