यासीन-अग्निवेश गिरफ्तार, फिर छूटे

Saturday, April 18, 2015

A A

यासीन-अग्निवेश गिरफ्तार

श्रीनगर | समाचार डेस्क: श्रीनगर में यासीन मलिक तथा स्वामी अग्निवेश को गिरफ्तार कर लिया गया तथा कुछ देर में दोनों को छोड़ दिया गया. जम्मू एवं कश्मीर की राजधानी में शनिवार को जम्मू एंड कश्मीर लिबरेशन फ्रंट के अध्यक्ष यासीन मलिक व स्वामी अग्निवेश को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने एक बयान में इस बात को स्वीकार किया कि नरबल गांव में पथराव कर रहे प्रदर्शनकारियों पर गोलीबारी करने वाले पुलिसकर्मियों ने स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रॉसिड्योर का उल्लंघन किया. इस गोलीबारी में एक किशोर की मौत हो गई थी.

कश्मीर घाटी में विस्थापित कश्मीरी पंडितों के लिए समग्र टाउनशिप के विरोध में श्रीनगर शहर के मैसुमा इलाके में जेकेएलएफ कार्यकर्ताओं के साथ मलिक तथा अग्निवेश सुबह में एक सांकेतिक भूख हड़ताल पर बैठे.

दोपहर के वक्त मलिक व स्वामी ने नरबल गांव जाने का फैसला किया, जहां पथराव कर रहे युवकों व पुलिस के बीच झड़प के दौरान पुलिसकर्मियों की गोलीबारी में एक किशोर की मौत हो गई थी.

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा, “शहर में कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए यासीन मलिक व स्वामी अग्निवेश को एहतियातन हिरासत में लिया गया है.”

उन्होंने कहा, “उन्हें खोतीबाग पुलिस थाने में रखा गया है.”

इसी बीच, बडगाम जिले के नरबल गांव में हालात तनावपूर्ण बना हुआ है. गोलीबारी में मारे गए किशोर की पहचान सुहेल अहमत सोफी के रूप में हुई है.

प्रदर्शनकारियों ने श्रीनगर-गुलमर्ग सड़क को जाम कर दिया है और वे किशोर के शव के साथ सड़क पर बैठे हैं.

प्रदर्शनकारियों व मृतक किशोर के परिजनों का कहना है कि उसे तबतक नहीं दफनाया जाएगा, जबतक गोलीबारी के जिम्मेदार पुलिसकर्मियों की पहचान कर उन्हें न्याय के कठघरे में नहीं लाया जाता.

पुलिस द्वारा शनिवार को जारी एक बयान के मुताबिक, “शनिवार सुबह नरबल इलाके में नरबल-गुलमर्ग सड़क पर वाहनों पर पथराव की खबर आई थी.”

बयान में कहा गया है, “हालात पर नियंत्रण के लिए पुलिस के साथ अर्धसैनिक बलों को तैनात किया गया, जिनपर भारी पथराव किया गया.”

बयान के मुताबिक, “स्थिति पर नियंत्रण के लिए कुछ चक्र गोलियां चलाई गईं, जिसमें मागम के नरबल निवासी अब्दुल अहद सोफी के बेटे सुहेल अहमद सोफी नामक एक स्थानीय किशोर घायल हो गया.”

उसने कहा, “दुर्भाग्य से घायल किशोर की अस्पताल में मौत हो गई. हम इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना पर खेद जताते हैं और शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना जताते हैं.”

बयान में कहा, “मामले की प्रारंभिक जांच के मुताबिक, तैनात सुरक्षाबलों ने एसओपी का उल्लंघन किया. रणबीर दंड संहिता के तहत मागम पुलिस थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जिसपर आगे कार्रवाई की जाएगी.”

उधर, उत्तरी कश्मीर के सोपोर से भी किशोर के मारे जाने के विरोध में प्रदर्शन की खबरें आई हैं.

Tags: , , , ,