हिंसा पीड़ितों का मुआवजा बढ़ा

Thursday, October 30, 2014

A A

राजनाथ सिंह-गृह मंत्री

नई दिल्ली | एजेंसी: हिंसा पीड़ितों मिलने को वाली राशि को 5लाख रुपया कर दिया गया है. अब हिंसा पीड़ियों या उनके परिजनों को 5लाख रुपये केन्द्र सरकार देगी. उल्लेखनीय है कि दंगा के समय घरों को उजाड़ दिये जाते हैं तथा कईयों के दुकान आदि को जला दिया जाता है. इसी तरह से नक्सल हिंसा तथा आतंकवादी हमलों से भी जानमाल को क्षति होती है. इन सब में मिलने वाली राशि को केन्द्र सरकार ने बढ़ा दिया है. इस प्रकार सांप्रदायिक दंगा, आतंकवादी हमला या नक्सली हिंसा का शिकार हुए लोगों के परिजनों को अब मुआवजे के रूप में पांच लाख रुपये मिलेंगे.

केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी बयान के अनुसार, “गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने सांप्रदायिक, आतंकवादी या नक्सली हिंसा का शिकार हुए लोगों को मुआवजे की राशि तीन लाख रुपये से बढ़ाकर पांच लाख रुपये करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है.”

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2008 से आतंकवाद, सांप्रदायिक या नक्सली हिंसा में मारे गए या स्थायी रूप से विकलांग हुए नागरिकों के परिजनों को सहायता स्वरूप केंद्रीय योजना के तहत तीन लाख रुपये की राशि मिलती रही है.

Tags: , , , , , , , , ,