ममता, भाजपा की उम्मीद जगी

Tuesday, May 17, 2016

A A

ममता बैनर्जी

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: सोमवार को आये एक्जिट पोल ने ममता तथा भाजपा की उम्मीद बढ़ा दी है. इसके अनुसार भाजपा पहली बार असम में सरकार बनाने जा रही है. यह मोदी-शाह जोड़ी के लिये राहत भरी खबर है. वहीं ममता बनर्जी आश्वस्त हो सकती है कि कांग्रएस-वाम का गठजोड़ भी उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकती है. वामपंथियों को केरल से ही संतोष करना पड़ सकता है. जयललिता के उपापोह से भरी खबर है.

बंगाल चुनाव, भविष्य की पदचाप

कुल मिलाकर नतीजा मिलाजुला रहने का संकेत है. वह भी उनके लिये जो एक्जिट पोल पर भरोसा करते हैं. तब तक 19 मई का इंतजार करना पड़ेगा जिस दिन आशंकाओँ के बादल छंटेंगे.

देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान संपन्न होने के साथ ही सोमवार शाम आए एक्जिट पोल के नतीजों में पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी, असम में भाजपा, केरल में वाममोर्चा की स्पष्ट जीत के अनुमान जाहिर किए गए हैं. जबकि तमिलनाडु के लिए सर्वेक्षण के नतीजे बंटे हुए हैं. डीएमके को हालांकि यहां आगे दिखाया गया है और पुडुचेरी में भी डीएमके की जीत की बात कही गई है.

लोकसभा चुनाव 2014 के बाद लोकप्रियता की सबसे बड़ी परीक्षा में भाजपा को असम में जीत मिलने की पूरी संभावना जाहिर की गई है, और यदि ऐसा हुआ तो इस राज्य से कांग्रेस का 15 साल लंबा शासन समाप्त हो जाएगा.

5 राज्यों में भाजपा की अग्नि परीक्षा

असम विधानसभा में कुल 126 सीटें हैं. टुडेज चाणक्य के मुताबिक, यहां भाजपा को 90, कांग्रेस को 27, एआईयूडीएफ को नौ व अन्य को तीन सीटें मिलने की संभावना है. वहीं, एक्सिस माई इंडिया और इंडिया टुडे के सर्वे के मुताबिक, कांग्रेस को यहां 26 से 33 सीटें मिलने की संभावना. भाजपा 79 से 93 सीटें जीतकर पहली बार यहां सरकार बना सकती है. एएलयूडीएफ को छह से 10 सीटें मिलने के आसार हैं.

एबीपी न्यूज के मुताबिक, यहां भाजपा को 81, कांग्रेस को 33, एआईयूडीएफ को 10 और अन्य को दो सीटें मिलने का अनुमान है. सी वोटर के मुताबिक भाजपा को 57, कांग्रेस को 41, एआईयूडीएफ को 18 और अन्य को 10 सीटें मिलने की संभावना है.

पश्चिम बंगाल विधानसभा में कुल 294 सीटें हैं. यहां सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली सरकार के बने रहने के आसार हैं. एग्जिट पोल में तृणमूल को सबसे बड़ी पार्टी के रूप में पेश किया गया है. हालांकि उनकी सीटों की संख्या में कुछ गिरावट हो सकती है.

प. बंगाल: BJP बनायेगी LEFT की सरकार

एबीपी आनंदा ने 294 सीटों में से तृणमूल को 178, जबकि वाम मोर्चा-कांग्रेस गठबंधन को 110 और भाजपा को चार सीटें मिलने का अनुमान लगाया है. तृणमूल के पास निर्वतमान विधानसभा में 184 सीटें हैं.

सीवोटर के पोल में तृणमूल को 167, वाम मोर्चा को 75, कांग्रेस को 45, भाजपा को चार और अन्य को तीन सीटें मिलने की बात कही गई है. वहीं -टुडेज चाणक्य के मुताबिक तृणमूल को 210, वाम मोर्चा-कांग्रेस को 70, भाजपा को 14 सीटें मिलने की संभावना है.

न्यूज नेशन के मुताबिक, तृणमूल को 151-155, वाम मोर्चा को 89-93 और कांग्रेस को 43-47 सीटें मिलने का अनुमान है. एक्सिस माई इंडिया और टीवी टुडे के मुताबिक, तृणमूल को 233 से 253, वाम मोर्चा को 38-52, भाजपा को 1-5 और अन्य को 2-5 सीटें मिलने की संभावना है.

उल्लेखनीय है कि वाम मोर्चा और कांग्रेस ने पिछले चुनाव यानी 2011 में कुल 294 सीटों में से क्रमश: 62 और 42 सीटें जीती थीं. इस चुनाव में दोनों के साथ होने पर करीब छह सीटें ज्यादा जीतने का अनुमान है.

तामिलनाडु में दो सर्वेक्षणों में मुख्यमंत्री जे. जयललिता की एआईएडीएमके की पराजय का अनुमान जाहिर किया गया है. लेकिन तीसरे सर्वेक्षण में उन्हें 139 सीटें दी गई हैं, और उनके सत्ता में बरकरार रहने की बात कही गई है.

एक्सिस माई इंडिया के मुताबिक, एआईएडीएमके को 234 सदस्यीय विधानसभा में 89-101, डीएमके-कांग्रेस को 124-140 सीटें, भाजपा को 0 से तीन सीटें व अन्य को चार से आठ सीटें मिलने की संभावना है. वहीं न्यूज नेशन के मुताबिक, एआईएडीएमके को 95-99 सीटें, डीएमके को 114-118 सीटें, पीडब्ल्यूएफ को 14 सीटें, भाजपा को चार सीटें व अन्य को नौ सीटें मिलने का अनुमान है.

ममता मौत की राजनीति करती है: मोदी

लेकिन सी-वोटर ने एआईएडीएमके को 139 सीटें दी है और डीएमके गठबंधन को 78 सीटें.

केरल में विधानसभा की कुल 140 सीटें हैं. इंडिया टीवी सी वोटर के मुताबिक, यहां एलडीएफ को 74-82, यूडीएफ को 54-62, राजग को 0-4 व अन्य को 0-4 सीटें मिलने की संभावना है. वहीं एक्सिस माई इंडिया के मुताबिक, यूडीएफ को 38-48, एलडीएफ को 88-101, भाजपा को 0 से तीन और अन्य को एक से चार सीटें मिल सकती हैं.

एक्जिट पोल में पुडुचेरी में भी डीएमके-कांग्रेस गठबंधन की जीत का अनुमान लगाया गया है.

Tags: , , , , , , ,