पेशावर में फिर आतंकवादी हमला, 33 मरे

Friday, September 18, 2015

A A

आतंकवादी

पेशावर | समाचार डेस्क: तालिबानी आतंकियों के हमले में पेशावर में 33 लोग मारे गये हैं. पाकिस्तान के पेशावर में वायु सेना अड्डे पर तालिबान आतंकवादियों ने शुक्रवार अल सुबह हमला कर दिया, जिसमें सेना के एक अधिकारी सहित 33 लोगों की मौत हो गई, जिनमें 13 आतंकवादी हैं. खैबर पख्तूनख्वा प्रांत की राजधानी में एक सैन्य स्कूल पर हुए हमले के एक साल से भी कम समय में इस बर्बर हमले को अंजाम दिया गया है. उस हमले में 150 से अधिक लोगों की हत्या कर दी गई थी.

‘डान’ की एक रपट के मुताबिक, आतंकवादी पुलिस की वर्दी में थे तथा विस्फोटक युक्त जैकेट पहन रखे थे और हाथों में हथगोले, मोर्टार व एके-47 ले रखे थे. उन्होंने पेशावर के बादाबेर इलाके में स्थित वायु सेना अड्डे में दो दिशाओं से प्रवेश किया. वे तुरंत दो उपसमूहों में बंट गए और वायु सेना अड्डे के भीतर स्थित मस्जिद पर हमला कर दिया.

यह सैन्य अड्डा कबायली इलाकों से घिरा है. ये इलाके हाल तक आपराधिक व आतंकवादी गतिविधियों का केंद्र रहे हैं.

यह हमला क्षेत्र में सेना द्वारा 15 महीनों के आतंकवाद रोधी सफल अभियान के दावे के बाद सामने आया है.

पीएएफ सूत्रों ने कहा कि अड्डा संचालन में नहीं है, बल्कि यह रिहायशी है. उन्होंने यह भी कहा कि सारे साजो-सामान सुरक्षित हैं.

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि आतंकवादी काले लिबास में थे और उन्होंने सफेद जूते पहन रखे थे.

इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के महानिदेशक मेजर-जनरल असीम बाजवा ने कहा कि इस हमले में 16 लोगों की मौत हो गई, जो वायु सेना अड्डे के भीतर स्थित मस्जिद में नमाज अदा कर रहे थे.

फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि मरने वाले वायु सेनाकर्मी हैं या नहीं.

जनरल बाजवा ने ट्वीट कर बताया कि 13 आतंकवादी मारे गए. पाकिस्तान सेना के जवान भी हताहत हुए हैं. मरने वालों में एक कैप्टन असफंदयार भी शामिल हैं.

सेना के कमांडो, पाकिस्तान वायु सेना व क्विक रिस्पॉन्स रिएक्शन फोर्स द्वारा आतंकवादियों के हमले का जवाब देने के दौरान कम से कम 25 लोग घायल हो गए, जिनमें आठ सैनिक व दो सैन्य अधिकारी शामिल हैं.

वायु सेना अड्डे पर बचे किसी भी आतंकवादी के सफाए के लिए अभियान जारी है.

घटना की सूचना मिलते ही सुरक्षाबल तुरंत घटनास्थल पर पहुंच गए, जिसके बाद आतंकवादियों व सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई.

तहरीक-ए-तालिबान के प्रवक्ता मोहम्मद खुरासानी ने पत्रकारों को भेजे गए ईमेल में इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हिदायतुर रहमान ने अड्डे की हेलीकॉप्टर से हवाई निगरानी की.

तलाशी अभियान के दौरान लगभग 15 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

हमले के कुछ घंटे बाद पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ पेशावर पहुंच गए.

इस दौरान, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने हमले की निंदा करते हुए आतंकवाद को समाप्त करने के लिए अभियानों को जारी रखने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई.

उन्होंने कहा कि सशस्त्रबलों को देश का पूर्ण सहयोग है और जल्द ही पाकिस्तान से आतंकवादियों के नेवटर्को को जड़ से खत्म कर दिया जाएगा.

Tags: , , , ,