मन्ना डे का निधन

Thursday, October 24, 2013

A A

मन्ना डे

बेंगलुरु | संवाददाता: लंबे समय से बीमार चल रहे मशहूर गायक मन्ना डे का निधन हो गया है. 94 वर्ष के मन्ना डे का निधन गुरुवार तड़के 3.50 मिनट पर बेंगलुरु के एक निजी अस्पताल में हुआ. उनके परिवार में दो पुत्रियां रमा और सुमिता हैं.

मन्ना डे काफी समय से बीमार चल रहे थे और जुलाई महीने में उन्हें छाती के इंफेक्शन के चलते बेंगलुरु के नारायणा हृदयालय अस्पताल में भर्ती कराया गया था. अस्पताल के प्रवक्ता एस. वासुकी ने बताया, “मन्ना डे पहले से ही वेंटिलेटर पर थे, गुरुवार तड़के उनकी हालत अचानक बिगड़ गई. उन्होंने सुबह चार बजे अंतिम सांस ली.”

मन्ना डे के अंतिम समय में उनकी बड़ी बेटी रमा उनके साथ थी. उनकी छोटी बेटी सुमिता अमरीका में रहती है.

हिंदी, बंगाली, असमिया समेत कई भाषाओं में 3500 से अधिक गानों को अपनी आवाज़ देने वाले मन्ना डे का जन्म मई 1919 को कोलकाता के एक बंगाली परिवार में हुआ था. मन्ना डे कि पिता चाहते थे वे वकील बने लेकिन उनका झुकाव संगीत की तरफ ज्यादा था.

मन्ना डे के करियर की शुरुआत मशहूर गायिका सुरैया के साथ 1942 की फिल्म तमन्ना में अपने मामा केसी डे के संगीत निर्देशन में गाए गाने से हुई.

इसके बाद मन्ना डे ने पचास और साठ के दशक की फिल्में में कई यादगार गाने गाए. विशेषकर राग आधारित गानों में तो मन्ना डे की महारत मानी जाती थी.

मन्ना डे को संगीत के क्षेत्र में बेहतरीन योगदान के लिए पद्म भूषण, पद्मश्री सम्मान और दादा साहब फाल्के अवार्डों से नवाजा गया था.