सेंसेक्स गिरा धड़ाम से

Tuesday, January 6, 2015

A A

bullish sensex

मुंबई | एजेंसी: मंगलवार को सेंसेक्स में 5 सालों की सर्वाधिक 855 अंकों की गिरावट दर्ज की गई. घरेलू मोर्चे पर कोयला श्रमिक संघों के पांच दिनों की हड़ताल पर चले जाने से बिजली, इस्पात, सीमेंट तथा अन्य कारोबारी क्षेत्रों पर बुरा असर पड़ने की संभावना जताई गई है. अंतर्राष्ट्रीय मोर्चे पर तेल मूल्य में गिरावट, ग्रीस संकट की इस गिरावट में महत्वपूर्ण भूमिका रही. अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू संकेतों पर देश के शेयर बाजारों में मंगलवार को पिछले लगभग साढ़े पांच सालों की सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की गई. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 854.86 अंकों की गिरावट के साथ 26,987.46 पर और निफ्टी 251.05 अंकों की गिरावट केसाथ 8,127.35 पर बंद हुआ. इससे पहले सेंसेक्स छह जुलाई, 2009 को 869.65 अंकों की गिरावट के साथ 14,043.40 बंद हुआ था, जो इससे पहले शुक्रवार तीन जुलाई, 2009 को 14,913.05 पर बंद हुआ था.

उल्लेखनीय है कि ब्रेट क्रूड ने मंगलवार को लगभग 51 डॉलर प्रति बैरल का स्तर छू लिया, जो 2009 के बाद से निचला स्तर है. यह भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए तो बेहतर है, लेकिन विश्लेषक इसे वैश्विक अर्थव्यवस्था में मंदी के संकेत के तौर पर भी देख रहे हैं, जिसका बुरा असर भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी पड़ सकता है.

ग्रीस के यूरो जोन से बाहर निकलने की संभावना का भी बाजार पर बुरा असर पड़ा है. यूरो जोन अमरीका, पूर्वी यूरो और एशिया का एक महत्वपूर्ण व्यापारिक साझेदार है और ग्रीस संकट ने पूरी दुनिया का ध्यान एक बार फिर से यूरो जोन की ओर खींच लिया है.

बंबई स्टॉक एक्सचेंज का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 148.09 अंकों की गिरावट के साथ 27,694.23 पर खुला और 854.86 अंकों या 3.07 फीसदी गिरावट के साथ 26,987.46 पर बंद हुआ. दिन भर के कारोबार में सेंसेक्स ने 27,698.93 के ऊपरी और 26,937.06 के निचले स्तर को छुआ.

सेंसेक्स के 30 में से सिर्फ एक शेयर हिंदुस्तान युनिलीवर 1.89 फीसदी में तेजी रही.

सेंसेक्स के गिरावट वाले शेयरों में प्रमुख रहे ओएनजीसी 5.89 फीसदी, एसएसएलटी 5.09 फीसदी, टाटा स्टील 4.88 फीसदी, एचडीएफसी 4.69 फीसदी और रिलायंस 4.67 फीसदी.

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 53.10 अंकों की गिरावट के साथ 8,325.30 पर खुला और 251.05 अंकों या 3.00 फीसदी गिरावट केसाथ 8,127.35 पर बंद हुआ. दिन भर के कारोबार में निफ्टी ने 8,327.85 के ऊपरी और 8,111.35 के निचले स्तर को छुआ.

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांकों में भी भारी गिरावट रही. मिडकैप 311.43 अंकों की गिरावट के साथ 10,235.74 पर और स्मॉलकैप 333.99 अंकों की गिरावट के साथ 10,986.22 पर बंद हुआ.

बीएसई के सभी 12 सेक्टरों में गिरावट रही. तेल एवं गैस 4.17 फीसदी, रियल्टी 3.66 फीसदी, धातु 3.49 फीसदी, पूंजीगत वस्तु 3.24 फीसदी और उपभोक्ता टिकाऊ वस्तु 3.09 फीसदी सेक्टरों में सर्वाधिक गिरावट रही.

बीएसई में कारोबार का रुझान नकारात्मक रहा. कुल 617 शेयरों में तेजी और 2281 में गिरावट रही, जबकि 57 शेयरों के भाव में बदलाव नहीं हुआ.

Tags: , , , , , ,