काटूर्निस्ट सुधीर तैलंग का निधन

Saturday, February 6, 2016

A A

सुधीर तैलंग

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रख्यात कार्टूनिस्ट सुधीर तैलंग के निधन पर शनिवार को शोक जताया. श्रीमती गांधी ने अपने शोक संदेश में कहा, “तैलंग के असामयिक निधन से दुख हुआ है. कार्टूनों के जरिए सामयिक मुद्दों का चित्रण और कलात्मक अभिव्यक्ति के अधिकार के प्रति उनकी निडर प्रतिबद्धता को हमेशा याद रखा जाएगा.” प्रख्यात काटूर्निस्ट सुधीर तैलंग का शनिवार को निधन हो गया. आगामी 26 फरवरी को वह 56 साल के हो जाते. तैलंग की बेटी अदिति ने कहा कि उन्होंने अपराह्न् 12.30 बजे अंतिम सांस ली.

अदिति ने कहा कि रविवार अपराह्न् दो बजे लोधी रोड श्मशान घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा.

तैलंग मस्तिष्क ट्यूमर से ग्रस्त थे और पिछले दो साल से उनका इलाज चल रहा था. एक महीने से ज्यादा समय तक अस्पताल में भर्ती रहने के बाद चिकित्सकों ने उनके स्वस्थ होने की सभी उम्मीदें छोड़ दी थीं, जिसके बाद उन्हें घर लाया गया.

अदिति ने बताया कि दो साल के उपचार के दौरान उनकी दो सर्जरी और कीमोथैरेपी भी हुई थी.

तैलंग ने हिंदुस्तान टाइम्स, टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस सहित लगभग सभी प्रतिष्ठित मीडिया संस्थानों के साथ काम किया था. उन्होंने अपना आखिरी काम एशियन एज के साथ किया था.

उन्होंने सबसे पहला कार्टून दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का बनाया था, जिसके बाद शायद ही कोई नामचीन हस्ती रही हो जो उनकी ब्रश की धार से बची हो.

कार्टूनिंग की कला को योगदान के लिए 2004 में उन्हें ‘पद्मश्री’ से सम्मानित किया गया था.

Tags: , , ,