अब तहसीलदार का विवादित FB पोस्ट

Wednesday, June 8, 2016

A A

अमिता सिंह-तहसीलदार

भोपाल | समाचार डेस्क: मध्यप्रदेश के रतलाम की तहसीलदार अमिता सिंह अपने फेसबुक पोस्ट को लेकर विवादों से घिर गई है. अमिता सिंह ने अपने पेसबुक के वॉल पर लिखा था कि प्रधानमंत्री मोदी ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ शुरु करें ताकि सेक्युलर तथा कांग्रेसी विचार वाले खबरें सुनकर आत्महत्या कर सके.

अमिता सिंह ने फेसबुक के वॉल पर लिखा था, “प्रधानमंत्री अफगानिस्तान गये. वहां मुसलमानों ने भारत के झंडे लेकर सड़क पर ‘वंदे मातरम्’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे लगाये.” उन्होंने प्रधानमंत्री से अनुरोध किया कि वे ‘राजीव गांधी आत्महत्या योजना’ शुरू करें ताकि सेक्युलर और कांग्रेसी विचार वाले ऐसी खबर सुनकर आत्महत्या कर सकें.

विरोध के बाद रतलाम की तहसीलदार अमिता सिंह ने पोस्ट को अपने वॉल से हटा दिया है तथा कहा है कि उनके वॉट्सएप पर मैसेज आया था जिसे उन्होंने फेसबुक में शेयर किया. अमिता सिंह मूलतः ग्वालियर की रहने वाली हैं.

अमिता सिंह के इस पोस्ट को देखकर अखिलेंदु ने कमेंट किया कि तहसीलदार को तो आउट ऑफ टर्न प्रमोशन मिलेगा. इसके जवाब में अमिता सिंह ने लिखा, अनुशंसा के लिए धन्यवाद! हमने ऐसा क्या लिखा, जो आपको बुरा लगा. सोशल मीडिया तो है ही अभिव्यक्ति का माध्यम.

पुनीत कुमार स्वर्णकार ने कमेंट किया कि कुछ लोग पूर्वाग्रह से ग्रसित हैं. लगता है इस जन्म में वे इससे बाहर निकल ही नहीं पायेंगे. लेकिन कुछ लोग तो अपनी सेवानिवृत्ति की उम्र से पहले ही इस बीमारी की चपेट में आ गये हैं. इसके जवाब में तलसीलदार अमिता सिंह ने लिखा, ये चाटुकारिता नहीं, विचार की अभिव्यक्ति है. जिसकी जैसी सोच, वो वैसा ही समझेगा.

उल्लेखनीय है कि इससे पहले मध्यप्रदेश के बड़वानी के कलेक्टर अजय गंगवार को नेहरु-गांधी परिवार की प्रसंसा करने के कारण उनके पद से हटाकर मंत्रालय में पदस्थ कर दिया गया था.

Tags: , , , ,