सरकार छोटे व्यापारियों के खिलाफ: राहुल

Wednesday, April 6, 2016

A A

राहुल गांधी-कांग्रेस उपाध्यक्ष

नई दिल्ली | समाचार डेस्क: राहुल गांधी ने आरोप लगाया केन्द्र सरकार छोटे व्यापारियों के खिलाफ है. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी के ‘मेक इन इंडिया’ को वास्तव में बड़े उद्योग घरानों के लिये बताया जिसका लाभ छोटे व्यापारी नहीं उठा पायेंगे. राहुल गांधी ने आभूषण कारोबारियों का समर्थन करते हुये कहा मैं भाषण देने नहीं आपके साथ खड़े होने के लिये आया हूं. उल्लेखनीय है कि पिछले एक माह से देशभर के आभूषण कारोबारी हड़ताल पर हैं. उऩकी मांग है कि सरकार आभूषणों पर लगाया गया उत्पाद शुल्क वापस ले ले अन्यथा वे तबाह हो जायेंगे.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि आभूषणों पर उत्पाद शुल्क से केवल बड़े कारोबारियों को ही फायदा होगा. उन्होंने बार-बार जोर देकर कहा कि केन्द्र सरकार छोटे कारोबारियों के खिलाफ है. उसकी नीतिया बड़े उद्योगपतियों को ध्यान में रखकर बनाई जा रही है.

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी उत्पाद शुल्क में वृद्धि के खिलाफ चल रहे आभूषण व्यापारियों के आन्दोलन में बुधवार को शामिल हुए. राहुल ने जंतर मंतर पर कहा कि सरकार का यह प्रस्ताव छोटे आभूषण व्यापारियों को खत्म करने वाला है.

गांधी ने कहा, “हम यहां आपके साथ खड़े होने आए हैं. मैं यहां भाषण देने नहीं आया हूं. मैं आपके दर्द को महसूस कर सकता हूं. मैं आपके साथ खड़ा हूं. यह आपकी लड़ाई नहीं है. यह हमारी भी लड़ाई है. मैं और कांग्रेस पार्टी आपके साथ है.”

सरकार द्वारा बजट में चांदी को छोड़कर अन्य आभूषणों पर एक फीसदी उत्पाद शुल्क लगाने के बाद से ही आभूषण कारोबारियों की राष्ट्रव्यापी हड़ताल पिछले एक महीने से जारी है. इसके साथ ही दो लाख से अधिक के आभूषणों की खरीद-बिक्री पर पैन कार्ड को अनिवार्य कर दिया गया है.

कांग्रेस नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह केवल कुछ बड़े उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाएगा, न कि देश के आम आदमी को.

गांधी ने कहा, “मेक इन इंडिया का विचार छोटे व्यापारियों को उत्पाद शुल्क लगाकर कुचलना है. यह उत्पाद शुल्क नहीं है, बल्कि यह छोटे व्यापारियों को कुचलने की कोशिश है. यह केवल कुछ बड़े उद्योगपतियों को ही फायदा पहुंचाएगा.” राहुल गांधी आजकल हर उस आंदोलन में शिरकत कर रहें हैं जो केन्द्र सरकार के खिलाफ हो. उन्होंने जेएनयू में कन्हैया का तो हैदराबाद में वेमुला की खुदकुशी के बाद दलित छात्रों का समर्थन किया है.

Tags: , , ,