हाथियों के छात्रावास परिसर में घुसने से दहशत

Wednesday, August 28, 2013

A A

हाथी

प्रतापनगर | एजेंसी: हाथियों के दल के छत्तीसगढ़ के प्रतापनगर से लगे हुए खोरमा के छात्रावास परिसर के एकदम नज़दीक आ जाने से इलाके में दहशत का माहौल है. हाथियों की आने की सूचना प्राप्त होने पर हाथी प्रबंधन टीम और ग्रामीणों ने किसी प्रकार हल्ला गुल्ला मचा कर दल को खदेड़ने में सफलता पाई लेकिन इससे छात्रावास के छात्र-छात्राओं में दहशत का माहौल है.

उल्लेखनीय है कि खोरमा के रईया खोट पहाड़ के नीचे कन्या आश्रम प्री और पोस्ट मैट्रिक के साथ ही प्री मैट्रिक बाल छात्रावास निर्मित है जिनमें 230 छात्र-छात्राएं निवासरत है. इन छात्रावासों की बाउंड्रीवॉल के पास ही पहाड़ होने की वजह से जंगली जानवरों के छात्रावासों में घुसने का डर बना रहता है. मंगलवार देर रात ऐसी ही स्थिति निर्मित होने से छात्र छात्राओं के जान पर बन आई.

मामले की जानकारी मिलते ही वन विभाग सक्रीय हो गया और उसने हाथियों के आने से हुए नुकसान की जानकारी जुटानी शुरु कर दी है. बताया जा रहा है कि खदेड़े गए हाथियों के झुंड में 5 हाथई थे जो अभी भी खोरमा के बगल में करंजवार गांव के बांस दोहर में डटे हुए हैं.

इलाके में हाथियों की दहशत को देखते हुए भाजपा मंडल महामंत्री अक्षय तिवारी ने वन विभाग से रईया खोह पहाड़ इलाके में लोगों की सुरक्षा के लिए सोलर फेंसिंग कराए जाने की मांग की है. इस बारे में इलाके के वन परिक्षेत्र अधिकारी अनिल सिंह ने कहा है कि शासन को इसके संबंध में प्रस्ताव भेजा जाएगा और राशि स्वीकृत होते ही फेंसिंग कराई जाएगी.

Tags: ,