ओडिशा में पॉस्को संयंत्र जल्द

Saturday, January 18, 2014

A A

पॉस्को

नई दिल्ली | एजेंसी: दक्षिण कोरिया और भारत के बीच गुरुवार को हुए पांच समझौते के तहत ओडिशा में पॉस्को इस्पात संयंत्र के लिए 12 अरब डॉलर के अब तक के सबसे बड़े प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) प्रस्ताव को आखिरी तौर पर हरी झंडी मिल गई.

दोनों देशों के बीच रक्षा और अंतरिक्ष सहित पांच समझौते पर हस्ताक्षर हुए. ये हस्ताक्षर दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क गुएन-हाई और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मौजूदगी में हुए.

राष्ट्रपति पार्क ने कहा कि चूंकि पॉस्को संयंत्र में देरी हो चुकी है इसलिए दोनों पक्षों को ओडिशा के जगतसिंहपुर में आगामी 80 लाख टन प्रति वर्ष वाली परियोजना को सुगम बनाने के लिए हरसंभव कोशिश करनी चाहिए.

पार्क ने कहा कि उन्होंने मनमोहन सिंह के पास प्रस्ताव रखा है कि दोनों देशों को रक्षा क्षेत्र में सहयोग करना चाहिए और भारत उनके देश से माइन स्वीपर खरीद सकता है.

भारत दक्षिण कोरियाई नागरिकों को आगमन पर वीसा सुविधा देने के लिए सहमत हो गया है. पार्क ने कहा कि वह भारत के इस रुख की सराहना करती है.

मनमोहन सिंह ने कहा कि दोनों पक्षों ने दोहरा कर निवारण समझौता पर वार्ता पूरी कर ली है और दोनों पक्ष भारत में कोरियाई औद्योगिक पार्क स्थापित करने के बारे में विचार कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि दोनों देश एक मुख्य कार्यकारी अधिकारी मंच का गठन करेंगे, जिससे व्यापार को बढ़ावा देने के सुझाव मिलेंगे.

Tags: , , ,