एनटीपीसी की बिजली सबसे सस्ती

Wednesday, September 18, 2013

A A

एनटीपीसी

कोरबा | संवाददाता: सार्वजनिक क्षेत्र की बिजली उत्पादक कंपनी नेशनल थर्मल पावर कारपोरेशन (एनटीपीसी) के सीएमडी डॉ. अरुप राय चौधरी का कहना है कि एनटीपीसी की बिजली सबसे सस्ती है.

एक दिवसीय प्रवास पर कोरबा पहुँचे डॉ. चौधरी ने बिजली उत्पादक संयंत्रों से निकलने वाली फ्लाई एश (राखड) की उपयोगिता पर चिंता जताते हुए कहा कि संयत्रों से 40-50 प्रतिशत फ्लाई ऐश निकलता हैं और इतनी बड़ी मात्रा में फ्लाई ऐश का उपयोग नहीं हो रहा है.

एनटीपीसी संयंत्र का निरीक्षण करने के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि फ्लाई ऐश का सबसे ज्यादा उपयोग सीमेंट इंड्स्टीज में होता है जिनकी हालत इस समय ठीक नहीं है. जितने सीमेंट इंडस्टीज थे या बढ़े है उसके हिसाब से पावर प्लांट बहुत ज्यादा बढ़ गये हैं और इनकी संख्या में लगातार बढ़ोत्तरी होती जा रही है.

उन्होंने कहा कि दुनियाभर में भारत को छोड़ कहीं इतनी फ्लाई ऐश नहीं होती और इसका सौ फीसदी उपयोग हमारे देश मे तब तक नही हो सकता जब तक माइंस को रिफिलिंग करने लिये फ्लाई एश का उपयोग न किया जाए.

एनटीपीसी की भावी योजनाओं के बारे में बताते हुए उन्होंने कहा कि एन टी पी सी का कोल ब्लाक विकसित किया जाएगा.

उन्होंने बताया कि एनटीपीसी के पास अभी 5 हजार मीलियन टन का कोयला रिजर्व में है. एनटीपीसी अगले 5-7 सालो मे 100 मिलियन टन प्रति वर्ष का उत्पादन करेगी.

डॉ. चौधरी ने यह भी कहा कि पावर प्लांटों से भू विस्थापितो को कोई तकलीफ नही होना चाहिये और एनटीपीसी के द्वारा सरकारी भू अर्जन नीति से ज्यादा मुआवजा विस्थापिथों को दिया जा रहा है.

Tags: , , ,