आरके लक्ष्मण का स्मारक बनेगा

Tuesday, January 27, 2015

A A

लक्षमण और आम आदमी

पुणे | समाचार डेस्क: महाराष्ट्र सरकार कार्टूनिस्ट आर. के. लक्ष्मण का स्मारक बनवायेगी. कार्टूनिस्ट लक्ष्मण का अपने बनाये आम आदमी के कार्टून की मार्फत राजनीतिक व्यंग करने में महारत हासिल थी. आण आदमी का कार्टून लक्ष्मण के द्नारा ईजाद की गई थी. प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट आर. के. लक्ष्मण मंगलवार को पंचतत्व में विलीन हो गए. महाराष्ट्र सरकार ने पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार कराया. इस अवसर पर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने उनके नाम पर एक स्मारक बनाए जाने की घोषणा की. लक्ष्मण को श्रद्धांजलि देने मंगलवार को यहां पहुंचे फड़णवीस ने कहा, “लक्ष्मण सिर्फ एक काटरूनिस्ट नहीं थे. उन्होंने अपने कार्टून के माध्यम से जो कहा, वह भावी सरकारों को प्रेरित करेगा. वह नहीं रहे, लेकिन उनके द्वारा बनाया गया ‘द कॉमन मैन’ हमेशा जिंदा रहेगा.”

बेहतरीन कार्टूनिस्ट व व्यंग्यकार 94 वर्षीय लक्ष्मण का बीमारी की वजह से सोमवार को एक निजी अस्पताल में निधन हो गया. बैकुंठ श्मशानघाट में मंगलवार दोपहर पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार हुआ.

फड़णवीस के अलावा उनके मंत्रिमंडल के कुछ सहयोगी, शिव सेना के प्रमुख उद्धव ठाकरे, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे तथा अन्य लोग भी लक्ष्मण को श्रद्धांजलि देने पुणे के एक निजी कॉलेज पहुंचे, जहां उनका शव लोगों के अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था.

अंग्रेजी के दिवंगत प्रख्यात उपन्यासकार आर.के. नारायणन के भाई लक्ष्मण के घर में पत्नी कमला, सेवानिवृत्त पत्रकार बेटा श्रीनिवास तथा पुत्रवधु उषा हैं.

उन्हें मूत्रनली में संक्रमण और फेफड़े की समस्या के कारण 16 जनवरी को पास के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन उनके स्वास्थ्य में कोई सुधार नहीं होने पर उन्हें दीनानाथ मंगेशकर अस्पताल में भर्ती कराया गया. लक्ष्मण के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था. आऱ क़े लक्ष्मण के निधन पर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और जनता दल युनाइटेड के वरिष्ठ नेता नीतीश कुमार ने गहरा शोक प्रकट किया है.

नीतीश ने अपने शोक संदेश में कहा है कि लक्ष्मण आम आदमी की जुबान थे. उन्होंने अपने कार्टून कैरेक्टर ‘द कॉमन मैन’ के जरिए देश के आम आदमी की भावनाओं को हमेशा आगे रखा और समाज की विकृतियों, राजनीतिक विदूषकों और उनकी विचारधारा के अंतर पर तीखे ब्रश चलाए.

लक्ष्मण के निधन पर वरिष्ठ राजनेता, मीडिया जगत के दिग्गजों, उद्योगपतियों, फिल्मी हस्तियों तथा अन्य ने शोक जताया है.

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने भी अपने शोक संदेश में कहा कि उनके निधन से रचनात्मक दुनिया में जो कमी आ गई है, उसकी भरपाई मुश्किल है.

महाराष्ट्र के राज्यपाल सी. वी. राव ने लक्ष्मण को बेहतरीन कार्टूनिस्ट बताया.

Tags: , ,