ल्यूक सोमर्स, अलकायदा की बलिवेदी पर

Sunday, December 7, 2014

A A

ल्यूक सोमर्स अमरीकी पत्रकार

सना | एजेंसी: ब्रिटेन में जन्मा अमरीकी पत्रकार ल्यूक सोमर्स यमन में अलकायदा की बलिवेदी पर चढ़ गया. यमन सुरक्षा बल तथा अमरीकी संयुक्त बचाव अभियान के दौरान अलकायदा ने ल्यूक सोमर्स को गोली मार दी. 33 वर्षीय ल्यूक सोमर्स को अलकायदा ने 2013 में अगवा कर लिया था. यमन में अलकायदा द्वारा अगवा अमरीकी फोटो पत्रकार ल्यूक सोमर्स की शाबवा प्रांत में एक बचाव अभियान के दौरान मौत हो गई. अल जजीरा की रपट के अनुसार, राष्ट्रपति कार्यालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि अभियान के दौरान घायल होने के बाद सोमर्स की मौत हो गई.

यमन की राजधानी सना में 33 वर्षीय ल्यूक सोमर्स को सितंबर 2013 में अलकायदा के आतंकवादियों ने अगवा कर लिया था. वह यमन टाइम्स के लिए स्वतंत्र पत्रकार के रूप में काम करते थे.

पत्रकार को बचाने के लिए अमरीका तथा यमन के सुरक्षा बलों की संयुक्त कार्रवाई के दौरान अपहर्ताओं ने सोमर्स को गोली मार दी. क्षेत्र में अमरीकी नौसेना अड्डे तक ले जाने के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

इस अभियान में अलकायदा के 10 आतंकवादी भी मारे गए.

अरब प्रायद्वीप में अलकायदा के ट्विटर अकाउंट पर गुरुवार को एक वीडियो पोस्ट किया गया था, जिसमें सोमर्स मदद मांगता दिख रहा था.

संघीय जांच ब्यूरो द्वारा मौत की खबर देने के बाद उसकी बहन लूसी ने कहा कि मेरी प्रार्थना है कि ल्यूक के परिवार के सदस्यों को शांति से जीने दिया जाए.

इससे पहले, सोमर्स के भविष्य को लेकर विरोधाभाषी खबरें आ रही थीं. क्योंकि अभियान के परिणाम से अमरीकी विदेश विभाग तथा यमन के अधिकारी दोनों ही अनजान थे.

Tags: , , , ,