श्री श्री को इस्लामिक स्टेट की धमकी

Sunday, March 29, 2015

A A

श्री श्री रविशंकर आर्ट ऑफ लिविंग

बेंगलुरू | समाचार डेस्क: इस्लामिक स्टेट ने श्री श्री रविशंकर को उनके मलेशिया प्रवास के दौरान जान से मारने की धमकी दी है. इसके बावजूद भी श्री श्री रविशंकर ने मलेशिया में अपने पूर्व नियोजित कार्यक्रम में भाग लिया. श्री श्री पर इस्लामिक स्टेट का आरोप है कि उन्होंने इस्लाम के काम में हस्तक्षेप किया है. श्री श्री पर ईरान-ईराक मामले में हस्क्षेप का आरोप लगाया गया है. ऑर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर को मलेशिया यात्रा के दौरान अंतर्राष्ट्रीय आतंकवादी संगठन ‘इस्लामिक स्टेट’ ने शनिवार को जान से मारने की धमकी दी. ऑर्ट ऑफ लिविंग फाउंडेशन ने यह जानकारी दी. बेंगलुरू स्थिति एओएल ने धमकी भरे पत्र के साथ एक वक्तव्य जारी कर कहा, “तीन व्यक्तियों के पते पर तीन अलग-अलग धमकी भरी चिट्ठियां मिली हैं. जिन लोगों के नाम चिट्ठी भेजी गई है उनमें बेंगलुरू एओएल के निदेशक, मलेशिया के एक शिक्षक और एक होटर के महाप्रबंधक शामिल हैं.”

गौरतलब है कि रविशंकर इसी होटल में रुका करते हैं.

अंग्रेजी और अरबी भाषाओं में लिखी चिट्ठियों में एक में कहा गया है, “चेतावनी दी जाती है कि यदि भारतीय गुरु रविशंकर ने मलेशिया की धरती पर या किसी भी इस्लामिक देश में पांव रखा तो उनके साथ यह होगा. हम उन सभी केंद्रों को नष्ट कर देंगे जहां उनकी गतिविधियां होती हैं और उनकी वजह से हजारों लोगों की जानें जाएंगी.”

चिट्ठी में रविशंकर पर ईरान और इराक के बीच इस्लामिक मामलों में हस्तक्षेप करने का आरोप भी लगाया गया है.

मलेशिया के सेलांगोर स्थित एओएल केंद्र को कुरियर के जरिए भेजी गई चिट्ठी में में आगे कहा गया है, “एक दुष्ट जो खुद को गैर धार्मिक कहता है और उसके बावजूद ईरान और इराक में मुस्लिमों को धर्म परिवर्तन कर उन्हें हिंदू बना रहा है. यह मजाक नहीं है. हम इस बारे में बेहद गंभीर हैं.”

पहली चिट्ठी पेनांग स्थित होटल जेन के महाप्रबंधक गाविन वेटहेड को भेजी गई है, वहीं दूसरी चिट्ठी एओएल की निदेशक एवं मानवीय मूल्यों के लिए अंतर्राष्ट्रीय संगठन की अंबिका मेनन को लिखी गई है.

तीसरी चिट्ठी सेलांगोर स्थित एओएल के वरिष्ठ शिक्षक ए मेई को लिखी गई है.

एओएल एक वक्तव्य जारी कर कहा, “हमने इसके बारे में भारतीय दूतावास, स्थानीय प्रशासन एवं मलेशिया की पुलिस को सूचित कर दिया है.”

एओएल ने हालांकि धमकी भरी चिट्ठियों से बिना घबराए शनिवार की सुबह पेनांग में योग कार्यक्रम आयोजित किया जिसमें करीब 10,000 लोगों ने हिस्सा लिया.

Tags: , , ,