अमरीका भारतवंशी राजदूत राहुल को भेज रहा है

Friday, September 19, 2014

A A

रिचर्ड राहुल वर्मा

वाशिंगटन | एजेंसी: अमरीका, भारत में भारतीय मूल के रिचर्ड राहुल वर्मा को राजदूत बनाकर भेज रहा है. इसे अमरीका की कूटनीति कही जायेगी कि भारत के नये प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आने के बाद पुराने राजदूत को जिसे कांग्रेस के करीब माना जाता था को वापस बुलाने के बाद एक भारतीय मूल के अमरीकी प्रशासन के अफसर को दिल्ली में राजदूत बनाकर भेजा जा रहा है. गौरतलब है कि भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वाशिंगटन दौरे से पहले राष्ट्रपति बराक ओबामा ने रिचर्ड राहुल वर्मा को भारत में नया अमरीकी राजदूत मनोनीत किया है. राहुल वर्मा नई दिल्ली में पहले भारतवंशी अमरीकी राजदूत होंगे.

तत्कालीन विदेश मंत्री हिलेरी क्लिंटन के एक प्रमुख सहायक रहे राहुल वर्मा भारत से संबंधित राजनयिक जिम्मेदारी संभालने वाले दूसरे भारतवंशी होंगे.

दक्षिण और मध्य एशियाई मामलों की सहायक विदेश मंत्री निशा देसाई बिस्वाल का मोदी के गृह राज्य गुजरात से नाता है. बिस्वाल ने नवंबर में यह जिम्मेदारी संभाली थी.

गौरतलब है कि भारतीय राजनयिक देवयानी खोब्रागड़े की दिसंबर में न्यूयार्क में हुई जामा तलाशी और गिरफ्तारी के बाद भारत में अमरीकी राजदूत नैंसी पॉवेल ने मई में इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद से भारत में अमरीकी राजदूत का पद रिक्त चल रहा है.

मोदी के अमरीका दौरे से पहले हालांकि, राहुल वर्मा के नाम को मंजूरी मिल पाना संभव नहीं है, क्योंकि चार नवंबर को कांग्रेस के चुनाव के कारण सांसद गुरुवार से ही प्रचार में व्यस्त हो जाएंगे.

राहुल वर्मा के नाम को मंजूरी चुनाव बाद ही हो पाएगी. अमरीका के भारतीय मूल के व्यक्ति को राजदूत बनाकर भेजने से साफ है कि अमरीका, भारत के साथ संबंधों को अच्छा बनाये रखना चाहता है.

Tags: , , , , , , , , , ,