म्यांमार-भारत परियोजना 2014 तक

Thursday, December 26, 2013

A A

भारत का झंडा

यंगून | एजेंसी: भारत-म्यांमार के बीच कालादान बहुमुखी परिवहन परियोजना 2014 के मध्य में पूरी होने की संभावना है. यह जानकारी गुरुवार को सामने आई है. समाचारो के मुताबिक, निर्माण कंपनी एस्सार का कहना है कि परियोजना का पहले तीन चरण 70 फीसदी पूरे हो चुके हैं.

पहले चरण में सिटवे दीप सीपोर्ट और पालेतवा जेटी का निर्माण, कालादान जलमार्ग का निकर्षण और छह पोत का निर्माण करना शामिल है.

दूसरे चरण में पालेतवा को सीमावर्ती इलाके से जोड़ने वाले 109 किलोमीट लंबी सड़क बनाना है और जबकि तीसरे चरण में भारत के मिजोरम राज्य व म्यांमार के चिन राज्य के बीच राजमार्ग बनाना है.

जलमार्ग और राजमार्ग के निर्माण से दोनों देशों के बीच परिवहन का विस्तार होगा.

पूरी परियोजना 2014 तक पूरी हो जाएगी और इसके बाद इसके रखरखाव की जिम्मेदारी भारत, म्यांमार को सौंप देगा.

म्यांमार और भारत ने इस परियोजना के निमाण के लिए साल 2008 में 21.4 करोड़ डॉलर का समझौता किया था.

Tags: , ,