यौन उत्पीड़न मामले में आई-गेट सीईओ मूर्ति बर्खास्त

Tuesday, May 21, 2013

A A

फणीश मूर्ति

बेंगलुरु: आईटी सेवा प्रदाता कंपनी आईगेट कॉरपोरेशन ने सीईओ और प्रेसीडेंट फणीश मूर्ति को यौन उत्पीड़न करने के आरोपों के बाद बाहर का रास्ता दिखा दिया है. कंपनी ने मूर्ति के स्थान पर तत्काल प्रभाव से गेरर्हाड वाट्ज़िंगर को अंतरिम प्रेसीडेंट और सीईओ नियुक्त किया है. मूर्ति पर अपनी एक कनिष्ठ कर्मचारी के साथ संबंध रखने और उसका यौन उत्पीड़न करने के आरोप थे.

आईगेट के निदेशक मंडल ने एक बाहरी कानूनी सलाहकार की जांच और मामले में परिस्थितिजन्य साक्ष्यों के आधार पर फैसला किया कि मूर्ति को बर्खास्त कर दिया जाए. कंपनी ने अपने आधिकारिक बयान में बताया है कि कंपनी यौन शोषण के मामलों में बिल्कुल सख्त है और मूर्ति ने अपने कृत्यों से कंपनी की पॉलिसी और जॉब कॉन्ट्रैक्ट का खुला उल्लंघन किया है.

वैसे ये पहला मामला नहीं है जब फणीश मूर्ति को यौन शोषण के चलते किसी पद से निकाला गया हो. इससे पहले मूर्ति इंफोसिस में थे जहां एक कर्मचारी रेखा मैक्समोविच ने 2003 में उनके खिलाफ यौन उत्पीड़न और गलत तरीके से नौकरी से बर्खास्त करने का मुकदमा दायर किया था. इन आरोपों को बाद मूर्ति को इंफोसिस से बाहर होना पड़ा था.

Tags: