‘चल धन्नो,सिप्पी ने बुलाया है’: हेमा

Wednesday, August 13, 2014

A A

हेमा मालिनी

मुंबई | मनोरंजन डेस्क: करीब 40 साल बाद फिल्म निर्देशक रमेश सिप्पी को हेमा मालिनी की फिर से जरूरत पड़ गई है. जिसे हेमा मालिनी ने मथुरा से सांसद बनने के बाद भी नहीं ठुकराया है. ‘शोले’ की ‘बसंती’ रमेश सिप्पी की पुकार पर ‘शिमला मिर्ची’ में मां बनने के लिये तैयार हो गई है. हेमा मालिनी कभी ‘ड्रीम गर्ल’ के नाम से जानी जाती थी तथा उन्होंने रमेश सिप्पी की ‘सीता और गीता’ तथा ‘शोले’ के अलावा कई फिल्मों में काम किया है परन्तु ‘शोले’ फिल्म के ‘बसंती’ के नाम से उन्हें उस जमाने में बच्चा-बच्चा जानता था.

आने वाली नई फिल्म का नाम ‘शिमला मिर्ची’ रखा गया है. यह फिल्म एक अकेली मां और उसकी बेटी की कहानी है जिसमें दोनों एक ही इंसान से प्यार करती हैं. मां का किरदार हेमा जबकि उनकी बेटी का किरदार राकुल प्रीत सिह ने निभाया है.

हेमा ने फिल्म की कहानी की सराहना करते हुए कहा, “संसद और मेरे संसदीय क्षेत्र मथुरा में तमाम व्यस्तताओं के बीच यह प्रस्ताव मेरे पास आया. मैं शायद हां नहीं कहती लेकिन यह दूसरी कहानियों से अलग है. यह एक अच्छी कॉमेडी फिल्म है. मुझे विश्वास है कि यह कुछ खास होगा. साथ ही रमेशजी इतने दिनों बाद वापस निर्देशन में लौट रहे हैं इसलिए भी मैं न नहीं कह पाई.”

हेमा और सिप्पी ने आखिरी बार 1972 में ‘सीता और गीता’ में साथ काम किया था. यह कॉमेडी फिल्म जुड़वा बहनों की कहानी थी.

यह पूछने पर कि वह इतनी व्यस्तताओं के बीच कैसे ‘शिमला मिर्ची’ के लिए वक्त निकाल सकेंगी, हेमा कहती हैं, “ठीक वैसे ही जैसे कि मैं और सारे काम अपनी जिंदगी में अभी कर रही हूं.”

सिप्पी द्वारा निर्देशित आखिरी बेहद सराही गई फिल्म ‘सागर’ थी जो 1985 में आई थी. इस फिल्म के जरिए डिंपल कपाड़िया की भी लंबे समय बाद रुपहले पर्दे पर वापसी हुई थी.

‘शिमला मिर्ची’ की शूटिंग सितंबर में शुरू होगी. जाहिर है कि दर्शक फिल्मी पर्दे पर हेमा मालिनी को मां के रूप में देखने के लिये बेकरार हैं.

Tags: , , , , ,