दबाव झेलने में काबिल युवाओं को मौका मिले: सचिन

Sunday, August 18, 2013

A A

sachin tendulkar

बेंगालुरु | एजेंसी: महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का मानना है कि जो युवा शीर्ष स्तर पर अधिक दबाव झेलने की क्षमता रखते हैं, उन्हें लगातार मौके मिलने चाहिए. सचिन के मुताबिक युवाओं के चयन के मामले में आंकड़ों से अधिक दबाव झेलने की क्षमता का आकलन होना चाहिए. सचिन ने यह बात कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ के प्लेनिम जुबली समारोह के दौरान कही.

इस दौरान सचिन के साथ मंच पर पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, राहुल द्रविड़ और गुंडप्पा विश्वनाथ मौजूद थे. ये सभी एक अच्छे क्रिकेट खिलाड़ी के गुणों पर चर्चा कर रहे थे.

सचिन ने कहा, “चयन की बात हो तो खिलाड़ियों का आकलन होना चाहिए. अगर कोई खिलाड़ी कुछ मैचों में नाकाम रहता है लेकिन उसमें दबाव झेलने की क्षमता है तो उसे निश्चित तौर पर खुद को साबित करने का मौका मिलना चाहिए. मैंने कई ऐसे खिलाड़ी देखे हैं, जो घरेलू स्तर पर बेहतरीन रहे हैं लेकिन शीर्ष पर वे दबाव नहीं झेल पाए हैं.”

इस अवसर पर द्रविड़ ने कहा कि हर खिलाड़ी को घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के बीच के फासले को भरने के लिए लगातार प्रयास करना चाहिए. द्रविड़ के मुताबिक अनुभव के बिना पर खिलाड़ी इस फासले को कम कर सकते हैं.

द्रविड़ ने कहा, “नेट पर मेहनत अच्छी बात है. यह सकारात्मक पहलू है लेकिन इससे अंतर्राष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट के अंतर को कम नहीं किया जा सकता. हम अपने सीनियर खिलाड़ियों और उनके साथी खिलाड़ियों से सीखते हैं, जो हमसे बेहतर हैं. मैंने सचिन, सौरव और लक्ष्मण से काफी कुछ सीखा है. मैंने इनसे सीखा है कि हालात के अनुसार अपनी पारी को कैसे संवारा जाए और खेल के प्रति आपका रुख क्या होना चाहिए.”

Tags: , , ,