‘भारतीय फैंटम’ पर पाक में रोक!

Friday, August 21, 2015

A A

'फैंटम'-फिल्म

रायपुर | अन्वेषा गुप्ता: भारतीय फिल्म ‘फैंटम’ पर हाफिज सईद की याचिका पर पाकिस्तान में रोक लगा दी गई. उल्लेखनीय है कि हाफिज सईद मुंबई के 26/11 हमले का मुख्य साजिशकर्ता है तथा ‘फैंटम’ फिल्म लेखक हुसैन जैदी के उपन्यास ‘मुंबई अवेंजर्स’ पर आधारित है जो 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमलों के बाद की स्थिति पर बनी है और वैश्विक आतंकवाद की बात करती है.

पाकिस्तान की अदालत ने हाफिज सईद के इस तर्क के आधार पर फिल्म को पाकिस्तान में बैन कर दिया है कि इस फिल्म में उसके तथा उसके संगठन के खिलाफ दुष्प्रचार किया गया है.

लाहौर उच्च न्यायालय में सईद के वकील एके डोगर ने कहा, ‘फिल्म के ट्रेलर की विषयवस्तु से याचिकाकर्ता और उसके साथियों की जान को सीधा खतरा है.’ उन्होंने कहा, ‘जाहिर है कि अनेक भारतीय अभिनेताओं और अभिनेत्रियों के मुंह से निकले संवाद पाकिस्तान की जनता के दिमाग में जहर घोलेंगे और हाफिज सईद को आतंकवादी चित्रित करेंगे जबकि जमात-उद-दावा को प्रतिबंधित संगठन घोषित नहीं किया गया है.

लाहौर उच्च न्यायालय के न्यायाधीश शाहिद बिलाल हसन ने सईद के वकील और सरकार के विधि अधिकारी की दलीलों को सुनने के बाद पाकिस्तान के सिनेमाघरों में सैफ अली खान अभिनीत इस फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने का आदेश जारी किया.

गौर करने वाली बात यह है कि भारतीय फिल्म ‘फैंटम’ की विषयवस्तु से आतंकी हाफिज सईद तथा उसके साथियों को जान का खतरा है! सबसे हैरत की बात है कि पाक अदालत ने इस हास्यापद तर्क को मान भी लिया. जबकि हाफिज सईद के साजिश के तहत हुई 26/11 मुंबई हमले में वास्तव में कई भारतीय नागरिक मारे गये थे तथा देश में दहशत का माहौल बन गया था और उस हाफिज सईद को अब तक भारत सरकार को नहीं सौंपा गया है.

वास्तव में हाफिज सईद का आजाद रहना भारत के लिये खतरे की बात होनी चाहिये.

सईद के वकील का यह कथन कि इस फिल्म में “भारतीय अभिनेताओं और अभिनेत्रियों के मुंह से निकले संवाद पाकिस्तान की जनता के दिमाग में जहर घोलेंगे और हाफिज सईद को आतंकवादी चित्रित करेंगे” ही वह असल कारण है जिसके लिये ‘भारतीय फैंटम’ को पाकिस्तान में बैन कर दिया गया है.

क्या पाकिस्तान इस सत्य का जवाब दे सकता है कि अंतर्राष्ट्रीय आतंकवाद का सरगना ओसामा बिन लादेन कैसे उसके सरहद में आराम से पनाह लिये हुये था. आज भी मुंबई ब्लास्ट का मुख्य आरोपी दाऊद इब्राहीम पाक में पनाह लिये हुये है जिसे पाक सैन्य-खुफिया लॉबी सुरक्षा मुहैय्या करा रही है.

पाकिस्तान का बॉलीवुड के फिल्म ‘फैंटम’ से डर जाना चीख-चीखकर ऐलान करता है कि पाक हुक्मरान सत्य से कितना डरते हैं. इसे कहते है “शरीर है हाथी का पर दिल है चूहे का जो बिल्ली को देखकर सहम जाता है.”

Tags: , , , ,