अकेले पड़ गए हैं मेसी

Wednesday, July 2, 2014

A A

डिएगो माराडोना

रियो डी जनेरियो | एजेंसी: माराडोना ने अर्जेटीना के कोच तथा खिलाड़ियों की कड़ी आलोचना की है. दिग्गज फुटबाल खिलाड़ी डिएगो माराडोना के अनुसार, अर्जेटीना अब तक अपने स्तर के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाई है, और अब तक विश्व कप के सभी मैचों में प्लेयर ऑफ द मैच रहे स्टार स्ट्राइकर लियोनेल मेसी जैसे अकेले पड़ गए हैं.

वेबसाइट ‘गोल डॉट कॉम’ ने माराडोना के हवाले से कहा, “अब तक टीम की गति और खेल में कोई बदलाव नजर नही आ रहा है. मेरे अंदर टीम के प्रदर्शन को लेकर भारी गुस्सा है. अर्जेटीना को अपना प्रदर्शन सुधारना होगा.”

गौरतलब है कि अर्जेटीना ने विश्व कप अंतिम-16 दौर के मुकाबले में मंगलवार को स्विट्जरलैंड को हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया. हालांकि, टीम के पूर्व खिलाड़ी और कोच रहे माराडोना का मानना है कि अर्जेटीना ने अभी खेलना भी शुरू नहीं किया है.

माराडोना ने कहा, “मुझे लगता है कि लियोनेल मेसी टीम में अकेले पड़ गए हैं. टीम के मिडफील्डर जोर नहीं दिखा रहे.”

मेसी पर अर्जेटीना के जरूरत से ज्यादा निर्भरता पर निशाना साधते हुए माराडोना ने कहा, “अगर मेसी आगे नहीं बढ़ते तो अगले दौर में हम असफल हो जाएंगे. टीम अब भी अपनी क्षमता का 40 प्रतिशत प्रदर्शन ही कर पा रही है. कई खिलाड़ियों ने तो अब तक विश्व कप स्तर का खेल खेलना शुरू ही नहीं किया है. अर्जेटीना ने खेल नहीं सुधारा तो हम कठिनाई में पड़ सकते हैं.”

अर्जेटीना को क्वार्टर फाइनल में शनिवार को बेल्जियम का सामना करना है. उल्लेखनीय है कि माराडोना की कप्तानी में 1986 में अर्जेटीना ने विश्व कप जीता था. फुटबाल में पेले के बाद माराडोना का ही नाम लिया जाता है इसलिये उनकी आलोचना कि खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया है अपने आप में महत्वपूर्ण टिप्पणी है.

Tags: , , , , , , ,