ढाका में बही ‘खून की नदी’

Wednesday, September 14, 2016

A A

dhaka-water-logging

नई दिल्ली | न्यूज डेस्क: बकरीद के दिन ढाका में मानो ‘खून की नदी’ बह निकली. सोशल मीडिया पर इस तरह के कई फोटो शेयर किये जा रहें हैं. दरअसल, बकरीद के दिन जानवरों की कुर्बानी से निकले खून, बारिश के पानी में मिल गये जिससे इस तरह का दृश्य उत्पन्न हो गया.

Dhaka streets on Eid-al-Adha at Bangladesh |

भारी बारिश का पानी सड़कों पर जाम हो गया जिसकी वजह से लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा. ढाका के शांतिनगर समेत कई इलाकों में जानवरों के खून, लीद तथा बरसाती पानी के आपस में मिल जाने के कारण स्थानीय निवासियों को इस तरह के दृश्यों का सामना करना पड़ा.

वैसे इस पुराने शहर में हर बरसात पानी सड़कों पर जमा हो जाता है.

बीबीसी के अनुसार अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने कुर्बानी के लिए जगह तय की हुई हैं. लोगों को इन तयशुदा जगहों पर ही कुर्बानी अदा करनी चाहिये. वहीं, कई स्थानीय निवासियों का आरोप है कि प्रशासन ने इन जगहों के बारे में ठीक से प्रचारित नहीं किया है.

बहरहाल, सोशल मीडिया में इन तस्वीरों के शेयर होने के बाद कुर्बानी को लेकर कुछ लोगों ने इस प्रथा की आलोचना भी की है.

Tags: , , , , ,