अधिकार क्षेत्र में अतिक्रमण न करें: सीजेआई

Friday, August 15, 2014

A A

पूर्व चीफ जस्टिस आरएम लोढ़ा

नई दिल्ली | एजेंसी: सीजेआई आरएम लोढ़ा ने शुक्रवार को कहा कि कार्यपालिका, विधायिका और न्यायपालिका में बैठे लोगों को एक-दूसरे के कार्य क्षेत्रों का अतिक्रमण नहीं करना चाहिए. उन्हें अपने निर्धारित क्षेत्र के तहत ही काम करना चाहिए. देश के 68वें स्वतंत्रता दिवस पर सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की ओर से आयोजित समारोह में प्रधान न्यायाधीश ने कहा, “मुझे भरोसा है कि न्यायपालिका, कार्यपालिका तथा संसद में बैठे लोग एक-दूसरे के प्रति सम्मान रखेंगो और उन्हें उनके निर्धारित कार्य क्षेत्र के अंतर्गत बिना किसी बाधा के काम करने देंगे.”

इससे पहले केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर ने वैधानिक समूह की इन आलोचनाओं पर कि सरकार ने राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्तियां आयोग विधेयक पारित करने से पहले उनसे मशविरा नहीं किया, कहा कि सरकार और उनकी नजर में न्यायपालिक की स्वतंत्रता पूर्ण है.

बकौल रविशंकर, उनके लिए न्यायपालिका की स्वतंत्रता विश्वास का मुद्दा है, जिसके लिए उन्होंने लड़ाई लड़ी है.

Tags: , , , , , ,