महिला मैनेजर-कोच न होने पर संघों पर कार्रवाई

Monday, March 10, 2014

A A

ओलम्पिक रिंग्स

रायपुर | एजेंसी: छत्तीसगढ़ ओलंपिक संघ ने साफ कर दिया है कि खेल संघों को यह सुनिश्चित करना होगा कि किसी आयोजन के समय टीम के साथ महिला प्रबंधक और कोच ही रहें. रायपुर के सर्किट हाउस में रविवार को हुई बैठक में संघ के महासचिव बलदेव सिंह भाटिया कहा कि तमाम खेल संघों को यह हिदायत दे दी गई है.

सिंह ने कहा, “यदि राष्ट्रीय स्पर्धा में भाग लेने महिला टीम जाती है तो टीम के साथ महिला कोच या मैनेजर का होना जरूरी है. यदि कोई खेल संघ ऐसा नहीं करता है उस संघ पर ओलंपिक संघ और खेल विभाग कड़ी कार्रवाई करेगा.”

बैठक में अगले साल जनवरी में केरल में होने वाले 35वें नेशनल गेम्स की तैयारियों के लिए एक समिति बनाने फैसला लिया गया है जिसमें ओलंपिक संघ के उपाध्यक्ष बशीर अहमद खान को संयोजक बनाया गया है.

समिति अगले हफ्ते खेल विभाग के अधिकारियों के साथ चर्चा कर विभिन्न खेलों के कोचिंग कैंप आयोजित करने पर चर्चा करेगी.

उल्लेनीय है कि छत्तीसगढ़ के विभिन्न खेल संघों में जब तब यौन शोषण की खबरें सामने आती रही हैं. हाल ही में छत्तीसगढ़ खेल विभाग ने यौन शोषण के आरोप में विवाद में आए खो-खो संघ की मान्यता रद्द कर दी है.

खो-खो संघ के महासचिव पर खिलाड़ियों ने यौन शोषण का आरोप लगाया था और उनका वीडियो भी बना लिया था. इसके आरोप के चलते महासचिव पिछले एक माह से जेल में बंद हैं.

Tags: , , ,