छत्तीसगढ़ में ट्रेने धीमे चलेंगी

Monday, June 30, 2014

A A

रेलवे

रायपुर | एजेंसी: रेल विभाग ने जुलाई और अगस्त में बारिश के मौसम की वजह से दुर्घटना की आशंका के चलते ट्रेनों की रफ्तार कम रखने का फैसला लिया है. जिसके अनुसार अब ट्रेने 100 किलोमीटर प्रति घंटे से घटाकर 60 किलोमीटर प्रति घंटा करने का फरमान जारी किया है.

एक जुलाई से 31 अगस्त तक बिलासपुर, रायपुर व नागपुर मंडल से आने वाली ट्रेनें इसी रफ्तार से चलेंगी. इस बाबत सभी बड़े स्टेशनों को निर्देश जारी कर दी गई है.

रेलवे ने जंगल-पहाड़ों वाले ऐसे 90 स्थानों की पहचान की है, जहां ट्रैक पर भारी बारिश से खतरा हो सकता है. यहां ड्राइवरों को अलर्ट करने के लिए कम स्पीड वाले कॉशन बोर्ड लगाने का काम शुरू कर दिया गया है.

कहा गया है कि बारिश के दौरान ट्रेन भले ही लेट हो जाए, लेकिन गति नियंत्रण पर विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए. रेलवे सूत्रों के अनुसार, विभाग पूरे साल भर रेलवे ट्रैक का निरीक्षण-परीक्षण करता है, लेकिन बारिश में जंगल-पहाड़ों से गुजरने वाली रेललाइनों व पुलों पर ज्यादा नजर रहेगी. बिलासपुर से रायपुर होकर नागपुर तक लगभग 250 किलोमीटर मार्ग ऐसा है, जिसमें रेलवे ट्रैक घने जंगलों और पहाड़ों से गुजरता है.

पहाड़ी ट्रैक भूस्खलन तथा अन्य कारणों से बारिश में काफी संवेदनशील हो जाते हैं. 10 दिन पहले ही राजनांदगांव से कुछ दूर पहाड़ों के एक स्टेशन सालेकसा के पास ट्रैक पर बड़ी चट्टान गिरी थी. इससे मुंबई-हावड़ा रूट करीब आठ घंटे बाधित रहा. बारिश में ऐसा खतरा और बढ़ जाता है. ऐसे में रफ्तार पर काबू जरूरी है.

Tags: , , ,