छत्तीसगढ़: एटीएम कार्ड बदलकर 15 हजार पार

Thursday, January 8, 2015

A A

एटीएम कार्ड

बिलासपुर | उस्मान कुरैशी: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में भारतीय स्टेट बैंक की रतनपुर शाखा में लगे एटीएम में सिंचाई विभाग का हेल्पर धोखाधड़ी का शिकार हो गया. उसका एटीएम कार्ड बदलकर अज्ञात युवक ले गया और उसकी महीने भर की गाढ़ी कमाई एटीएम से निकालकर पार कर दी.

मदनपुर सिंचाई कालोनी निवासी तेजराम वाडवे का एटीएम बदलकर अज्ञात युवक ने उसके खाते से 15 हजार आठ सौ रूपए पार कर दिए. सिंचाई विभाग मदनपुर के सब डिवीजन में हेल्पर के पद पर कार्यरत तेजराम वाडवे गुरूवार की दोपहर अपना वेतन निकलवाने रतनपुर आया था. यहां वह भारतीय स्टेट बैंक की महामाया चौक सिथत एटीएम पहुंचा था. जहां उसे मशीन से पैसे निकालने में परेशानी हुई. उसने वहीं खड़े एक युवक से पैसे निकालने मदद ली.

इस दौरान युवक ने तेजराम से उसका एटीएम कार्ड लेकर दूसरा एटीएम कार्ड थमा दिया और उससे पासवर्ड हासिल कर लिया. थोडे प्रयास के बाद पैसे नही निकलने पर वह युवक चला गया. उसके बाद उसने पैसा निकलवाने पहुंचे दूसरे युवक से मदद ली इस बार भी पैसा नही निकलने पर युवक ने उसे बैंक प्रबंधन से मिलने की सलाह दी. तेजराम के मुताबिक बैंक में जानकारी देने पर उससे एकाउंट नंबर मांगा गया जानकारी नहीं होने पर खाता लेकर आने की बात कही गई. खाता लेकर पहुंचने पर बैंक कर्मियों ने उसे जानकारी दी कि उसके एकाउंट से क्रमश: दो बार एटीएम से साढ़े 15 हजार की राशि निकाल ली गई है.

जिसमें एसबीआई की रतनपुर शाखा के एटीएम से दस हजार और बस स्टैंड के समीप सिथत एसबीआई के एटीएम से साढ़े पांच हजार की राशि निकाली गई है. बैंक प्रबंधन ने उसे घटना की रिपोर्ट थाना में देने की सलाह दी. वह घटना की रिपोर्ट लिखाने थाना पहुंचा. जहां से दो सिपाही बैंक पहुंचे और सीसी टीवी फुटेज की मांग की. बैंक प्रबंधन ने शाम में फुटेज देने की बात कही.

इस दौरान अज्ञात युवक ने कटघोरा सिथत एटीएम से खाते में बची तीन सौ रूपए की राशि भी आहरित कर ली है. तेजराम दिन भर पुलिस कार्रवाई के इंतजार में बैंक शाखा के सामने बैठा रहा. इस मामले में फिलहाल किसी भी प्रकार का अपराध दर्ज नहीं किया गया है. इस मामले में थाना प्रभारी विलियम टोप्पो का कहना है कि घटना की शिकायत आई है जिसकी सीसी टीवी फूटेज देखकर जांच की जा रही है.

Tags: , , , , , ,