शराब ठेके में मंजीत समूह आगे

Friday, March 15, 2013

A A

शराब ठेका

बिलासपुर | संवादताता: बिलासपुर में इस साल शराब ठेके में भाटिया समूह पीछे रह गया है और मंजीत सिंह समूह ने बाजी मार ली है. यूपी समूह और सोम भी इस साल भाटिया ग्रूप से आगे निकल गये हैं. 44 देसी और 27 विदेशी शराब दूकानों में से भाटिया ग्रूप को केवल 7 पर ही संतोष करना पड़ा है. इस साल सरकार को पिछले साल के 154 करोड़ के मुकाबले 196 करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त हुआ है.

शुक्रवार को जब बिलासपुर जिले में शराब दुकानों के समूह के लिये लाटरी निकली तो मंजीत सिंह समूह सब पर भारी पड़ा. इस समूह को सिरगिट्टी, नवागांव, सकरी, चुचुहियापारा, तखतपुर, तिफरा, तारबाहर, बिल्हा, शनीचरी, तोरवा चौक, बोदरी और मल्हार की दुकानें मिलीं.

दूसरे नंबर पर रहे उत्तर प्रदेश समूह को जूना बिलासपुर, गोल बाजार, सेंदरी, रिसदा, मंगला चौक, मस्तूरी, जोंधरा, उसलापुर, सीपत की दूकानों का ठेका मिला. भोपाल के सोम समूह को जोबरा, बिरकोना, लिंगियाडीह, परसदा, व्यापार विहार, लिंक रोड, गौरेला और मरवाही की दूकाने मिलीं. भाटिया समूह को ग्रामीण इलाकों में ही संतोष करना पड़ा. इस समूह को सरकंडा व मोपका के अलावा छोटी कोनी, गनियारी, कोटा, बेलतरा और पेंड्रा का ठेका मिला है.

Tags: , , , , ,