छत्तीसगढ़ में शोषण ज्यादा, विकास कम

Tuesday, June 16, 2015

A A

राहुल गांधी-कांग्रेस उपाध्यक्ष

रायपुर | समाचार डेस्क: राहुल गांधी ने आरोप लगाया छत्तीसगढ़ में विकास कम शोषण ज्यादा है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां मंगलवार को केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार किसानों के शोषण में आगे और विकास में पीछे है.

राहुल ने राज्य के अपने दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन कहा कि राज्य में जिस तरह विकास हो रहा है, उससे किसानों तथा आम लोगों को कोई लाभ नहीं हो रहा है, केवल कुछ उद्योगपतियों को लाभ हो रहा है.

राहुल ने कहा कि कांग्रेस इस तरह का विकास चाहती है, जिसमें किसानों और आम लोगों का विकास हो. उन्होंने कहा, “मैं यह कसम खाने आया हूं कि किसी की भी जमीन उद्योग के लिए मुफ्त में नहीं ली जाएगी.”

राहुल ने यह बात साराडीह से बरभाठा तक की अपनी पांच किलोमीटर लंबी पदयात्रा के दौरान क्षेत्र में बांध और कंपनियों से प्रभावित हुए लोगों से मुलाकात के दौरान कही.

पदयात्रा सुबह सात बजे साराडीह के खरसियां से शुरू हुई और 11 बजे बरभाटा में समाप्त हो गई.

कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि राहुल की पदयात्रा पहले 12 किलोमीटर प्रस्तावित थी, लेकिन सुरक्षा कारणों से उसे घटाकर पांच किलोमीटर कर दी गई.

राहुल ने रास्ते में बस्तर के पोलावरम बांध प्रभावितों से लेकर नया रायपुर, लारा, एनटीपीसी, ऐथान, भिरौनी बराज, मड़वा विद्युत संयंत्र, डिलीमिली, आरकेएस, केएसके केलो परियोजना के प्रभावितों से मुलाकात की और इस दौरान प्रभावितों ने राहुल के सामने अपनी बातें रखी.

साराडीह से बरभाठा तक पदयात्रा के दौरान महानदी पर बन रहे भिरौनी साराडीह बराज के प्रभावित ग्रामीणों ने उनसे मुलाकात की.

साराडीह में स्कूली छात्र-छात्राओं ने बरसात में स्कूल में पानी भर जाने की शिकायत राहुल से की, महिलाओं ने धान के कटोरे को रमन सिंह सरकार द्वारा उद्योग का कटोरा बनाए जाने की शिकायत की तो किसानों ने फसल खराब होने और भूखमरी का दुखड़ा रोया.

राहुल के काफिले का गांवों में जगह-जगह परंपरागत तरीके से स्वागत किया गया.

पदयात्रा में वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा, वीके हरिप्रसाद, टीएस सिंहदेव, भूपेश बघेल सहित बड़ी संख्या में कांग्रेसी नेता शामिल थे.

Tags: , , ,