रबी की रिकार्ड बोनी

Thursday, April 11, 2013

A A

छत्तीसगढ़ खेती

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ में चालू रबी मौसम में इस साल धान, चना और मक्के की बोनी लक्ष्य से अधिक रकबे में हुई है. कृषि विभाग के अधिकारियों ने बताया कि चालू रबी मौसम में अब तक धान की बुआई 2.21 लाख हेक्टेयर में हो चुकी है, जो इसके प्रस्तावित रकबे 1.91 लाख हेक्टेयर से 30 हजार हेक्टेयर ज्यादा है.

कृषि विभाग के अनुसार मक्के की बोनी अब तक 49.73 हजार हेक्टेयर में हो चुकी है, जो इसके लिए लक्षित रकबे 34.89 हजार हेक्टेयर से 14.84 हजार हेक्टेयर अधिक है. चने की बुआई 3.8 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 3.81 लाख हेक्टेयर में हुई है, जो लक्ष्य से एक हजार हेक्टेयर ज्यादा है. प्रदेश में चालू रबी मौसम में बुआई के लिए प्रस्तावित कुल रकबे के 96 फीसदी में बुआई का काम पूरा हो गया है.

वर्तमान रबी मौसम के लिए प्रस्तावित कुल 18.53 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 17.73 लाख हेक्टेयर में बोनी हो चुकी है. दलहन के लिए प्रस्तावित क्षेत्र के 92 प्रतिशत और तिलहन के लिए प्रस्तावित क्षेत्र के 90 प्रतिशत में इनकी बोनी पूरी हो गई है.

रबी फसलों के कुल प्रस्तावित क्षेत्र 18.53 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध प्रदेश में अब तक 17.73 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई है. वहीं दलहन के लिए प्रस्तावित 9.43 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 8.72 लाख हेक्टेयर और तिलहन के लिए प्रस्तावित 3.02 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 2.73 लाख हेक्टेयर में इनकी बुआई की जा चुकी है.

गन्ना के लिए प्रस्तावित क्षेत्र 24 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 18.33 हजार हेक्टेयर में एवं साग-सब्जियों के लिए प्रस्तावित रकबे 1.68 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 1.64 लाख हेक्टेयर में बोनी पूरी हो चुकी है. राज्य में गेहूं के लिए प्रस्तावित 1.82 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध अब तक 1.7 लाख हेक्टेयर में और जौ, ज्वार एवं अन्य अनाज के लिए लक्षित 8.78 हजार हेक्टेयर क्षेत्र के विरूद्ध 4.43 हजार हेक्टेयर क्षेत्र में बोनी हुई है. इस प्रकार कुल अनाज फसलों के 4.16 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 4.45 लाख हेक्टेयर में बोनी की जा चुकी है जो लक्षित रकबे से 29 हजार हेक्टेयर अधिक है.

राज्य में रबी मौसम के दौरान दलहन का प्रस्तावित लक्ष्य 9.43 लाख हेक्टेयर है जिसके विरूद्ध अभी तक 8.72 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में दलहनी फसलों की बोनी हुई है. इनमें चना की बोनी 3.8 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 3.81 लाख हेक्टेयर, मटर की बोनी 51.95 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 47.25 हजार हेक्टेयर, मसूर के 31.86 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 25.09 हजार हेक्टेयर, मूंग के 27.24 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 20.36 हजार हेक्टेयर, उड़द के 17.54 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 12.11 हजार हेक्टेयर, तिवड़ा के 4.03 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध 3.47 लाख हेक्टेयर एवं कुल्थी की बोनी 31.04 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 28.72 हजार हेक्टेयर रकबे में हो चुकी है.

तिलहन का प्रस्तावित लक्ष्य 3.02 लाख हेक्टेयर है जिसके विरूद्ध अभी तक 2.73 लाख हेक्टेयर में बोनी हुई है. इनमें अलसी 75 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 65 हजार हेक्टेयर, मूंगफली 27 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध बोनी 26.76 हजार हेक्टेयर, राई-सरसों एवं तोरिया 1.55 लाख हेक्टेयर के विरूद्ध बोनी 1.47 लाख हेक्टेयर, सूरजमुखी 24.98 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 19.58 हजार हेक्टेयर, तिल 3.89 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध 1.63 हजार हेक्टेयर और कुसुम के 16.13 हजार हेक्टेयर के विरूद्ध अब तक 9.31 हजार हेक्टेयर में बोनी हुई है.

Tags: , , , , ,