छोटे उद्योगों से ज्यादा रोजगार: रमन

Friday, November 21, 2014

A A

रमन सिंह

रायपुर | संवाददाता: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह ने कहा कि बड़े उद्योगों की तुलना में छोटे उद्योगों से ज्यादा रोजगार मिलता है. रायपुर के कबीर नगर स्थित सेन्ट्रल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नालाजी परिसर में दो दिवसीय दूसरी राष्ट्रीय वेंडर विकास कार्यक्रम और औद्योगिक विकास प्रदर्शनी का शुभारंभ करते हुए मुख्यमंत्री रमन सिंह ने यह बात कही. उन्होंने कहा, “इसे ध्यान में रखकर छत्तीसगढ़ सरकार राज्य में सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों को बढ़ावा देने के हर संभव प्रयास कर रही है. समय-समय पर हमारी उद्योग नीतियों में भी इसके लिए कई आकर्षक प्रावधान किए गए हैं. हमारी उद्योग नीति 2009-14 के दौरान राज्य में पांच हजार से ज्यादा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों की स्थापना की गयी, जिनमें तीन हजार 673 करोड़ रूपए का पूंजी निवेश हुआ और 52 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिला.”

मुख्यमंत्री ने बताया कि केन्द्र सरकार के एक अनुमान के अनुसार एमएसएमई उद्योगों द्वारा उत्पादित 358 चीजों का उपयोग सार्वजनिक और बड़े उद्योगों में किया जा सकता है. साथ ही यह भी प्रावधान किया गया है कि इन उद्योगों को अपने जरूरत की कम से कम 20 प्रतिशत खरीदी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों से की जानी चाहिए. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री ने कहा कि कहा कि सिर्फ सरकारी अनुदान से कोई उद्योग नहीं चल सकता, उद्योगों को अपने उत्पादनों की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देना होगा, तभी वे व्यापार-व्यवसाय में सफल हो सकेंगे.

समारोह में राज्य सरकार के प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री अमन कुमार सिंह, केन्द्र सरकार के रायपुर स्थित सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्यमी विकास संस्था के निदेशक श्री ए.आर.गोखे , छत्तीसगढ़ लघु एवं मध्यम उद्योग सहायक संघ छत्तीसगढ़ के अध्यक्ष श्री हरीश केडिया और उरला उद्योग संघ रायपुर के अध्यक्ष श्री एस.के.जैन सहित विभिन्न उद्योगों के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे.

Tags: , , , ,